मुंबई को दहलाने की साजिश कट्टा, रिवाल्वर, पिस्टल जप्त

२०१९ लोकसभा चुनाव के लिए मुंबई में मतदान की तिथि जैसे-जैसे करीब आ रही है, वैसे-वैसे काले धन, शराब और प्रतिबंधित शस्त्रों के मिलने का सिलसिला तेज हो गया है। बीते २४ घंटों में ३ अलग-अलग मामलों में ३ आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उनके पास से १ कट्टा, २ पिस्टल, १ रिवॉल्वर, एक कार्टरेज और १२ कारतूस मिले हैं। इनमें से एक आरोपी मुनाफा कमाने के लालच में जबकि दूसरा कड़की यानी आर्थिक तंगी दूर करने के लिए प्रतिबंधित शस्त्र बेचने का प्रयास कर रहा था।
बता दें कि बांद्रा पुलिस ने मोहम्मद असलम मोहम्मद उमर शेख को बांद्रा-पश्चिम स्थित अल्मेडा पार्क के पास से हिरासत में लिया था। बांद्रा-पश्चिम के शास्त्री नगर में रहनेवाले असलम के पास से एक कट्टा और एक कारतूस पुलिस को मिला है। इसी तरह खार पुलिस ने खार रेलवे स्टेशन के पास स्थित मूर्ति गली से चेतन चंदू पटेल को हिरासत में लिया। पुलिस निरीक्षक दया नायक ने बताया कि बोरीवली निवासी २९ वर्षीय चेतन ने ३ महीने पहले अपने मित्र राजू नेपाली के साथ एक बिल्डर की साइट पर सुरक्षा का ठेका ले रखा था। उसी दौरान नेपाली ने दो पिस्टल चेतन को दी थीं। बाद में नेपाली फरार हो गया और बिल्डर ने चेतन को हटा दिया। आर्थिक परेशानियों से तंग आकर चेतन पिस्टल और कारतूस बेचने का प्रयास कर रहा था। पुलिस ने फर्जी ग्राहक के जरिए जाल बिछाकर चंदू को दबोच लिया। इसी तरह के एक अन्य मामले में क्राइम ब्रांच यूनिट-९ की टीम ने बांद्रा-पश्चिम के रिक्लेमेशन स्थित लाल मट्टी इलाके से तौफीक कुरेशी नामक संदिग्ध को हिरासत में लिया। तौफीक एक परिचित की शादी में कानपुर गया था। वहां उसके एक मित्र ने उसे एक पिस्टल और ६ कारतूस १० हजार रुपए में दिए थे। तौफीक को हथियार देनेवाले मित्र ने बताया था कि मुंबई में वह एक पिस्तौल ५० हजार से एक लाख रुपए में बेचकर मोटा मुनाफा कमा सकता है।