मुंबई को मदहोशी का डोज, नश्तर बन रहे देसी-विदेशी तस्कर

उड़ता पंजाब की तर्ज पर मुंबईकरों को मादक पदार्थों की डोज से मदहोश करने का लगातार प्रयास हो रहा है। इसे रोकने के लिए मुंबई पुलिस और उसकी तमाम यूनिटों द्वारा अब तक किए गए प्रयास नाकाफी सिद्ध हुए हैं। मादक पदार्थों की तस्करी में लगे देसी और विदेशी तस्कर पुलिस के प्रयासों पर नश्तर लगा रहे हैं। पुलिस द्वारा लगातार जप्त किए जा रहे मादक पदार्थ और तस्करों की गिरफ्तारी इसका प्रमाण है। बीते सप्ताहभर में ३ विदेशी एवं एक महिला सहित ४ हिंदुस्थानी नागरिकों को मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच की एंटी नारकोटिक्स सेल (एएनसी) ने गिरफ्तार किया है। एएनसी ने गिरफ्तार आरोपियों के पास से लगभग ७८,२४,००० रुपए का मादक पदार्थ भी जप्त किया है।
बता दें कि एएनसी की बांद्रा यूनिट के प्रभारी पुलिस निरीक्षक अनिल वाधवाने के नेतृत्व में टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर छोटा सायन अस्पताल के पास से सरफुद्दीन समसुसुद्दीन शेख उर्फ जावेद उर्फ जावा को हिरासत में लिया।
धारावी निवासी जावा के पास से लगभग २४ लाख रुपए के ६०० ग्राम एमडी ड्रग्स टीम ने बरामद की। इससे पहले वाधवाने की टीम ने अंधेरी-पश्चिम स्थित डीएन नगर इलाके से मीरा रोड निवासी नाइजीरियन नागरिक चिकवू जेरोम आमीन को गिरफ्तार किया था। उसके पास से १,५०,००० रुपए की ३० ग्राम कोकीन मिली थी। इसी तरह की कार्रवाई में एएनसी की घाटकोपर यूनिट ने पीएसआई चारु चव्हाण के नेतृत्व में नालासोपारा निवासी नाइजीरियन नागरिक कनु चाइल्ड क्रिस्टाइन और एवंस लैरी जॉर्ज को मानखुर्द स्थित महाराष्ट्र नगर बस स्टॉप के पास से गिरफ्तार किया था। उनके पास से लगभग ४० लाख रुपए की ५०० ग्राम एमडी ड्रग्स बरामद हुई है। घाटकोपर यूनिट ने घाटकोपर के गोलीबारनगर इलाके से लगभग ७४ हजार रुपए की ३७० बोतल प्रतिबंधित कफ सिरप भी जप्त की है। वहीं एक अन्य कार्रवाई में वर्ली यूनिट ने सायन इलाके से लगभग १२ लाख रुपए का ३० किलो गांजा जप्त किया है। इस मामले में यूनिट ने मुक्ताबाई मानिक चव्हाण नामक महिला के साथ मोहम्मद शेख नामक आरोपी को गिरफ्तार किया है।