मुंबई बनेगा न्यारा, पास हुईं मेट्रो… १०,११ और १२

मुंबई की लाइफलाइन कही जानेवाली लोकल ट्रेन आनेवाले कुछ सालों में मेट्रो के जाल के आगे पानी कम चाय लगेगी। मुंबई शहर सहित पूरे एमएमआरडीए क्षेत्र में युति सरकार जिस तरह से मेट्रो का जाल बिछा रही है, उससे मुंबई का नजारा ही न्यारा होगा। महाराष्ट्र सरकार ने कल वैâबिनेट की बैठक में मेट्रो १०, ११ और १२ को मंजूरी दी है। मुंबईकरों सहित पूरे एमएमआरडीए क्षेत्रों के निवासियों को सरकार ने यह बड़ी सौगात दी है। इन तीनों मेट्रो के पूर्ण होने से पूरे एमएमआरडीए क्षेत्र में रहनेवालों की आवागमन सुविधा आसान हो जाएगी।
मेट्रो-१० गायमुख-शिवाजी चौक (मीरा रोड)
युति सरकार में मुंबईकरों को सौगात देते हुए कल गायमुख-शिवाजी चौक (मीरा रोड) मेट्रो-१० को मान्यता दी है। मेट्रो-१० की लंबाई ९.२०९ किमी है, जिसमें ८.५२९ किमी एलिवेटेड और ०.६८ किमी भूमिगत मार्ग होंगे। इसमें चार एलिवेटेड स्टेशन हैं। इस योजना की लागत ४ हजार ४७६ करोड़ रुपए है। मार्च, २०२२ तक योजना को पूरा करने का लक्ष्य है। इस योजना के लिए एमएमआरडीए व राज्य सरकार सहित अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संस्थान से आर्थिक सहायता लेने की भी मंजूरी वैâबिनेट की बैठक में दी गई। इस योजना के पूरा होने पर १४ लाख ३२ हजार यात्री प्रतिदिन सीएसएमटी से वडाला-ठाणे-कासारवडवली-गायमुख शिवाजी चौक (मीरा रोड) तक उपयोग करेंगे
मेट्रो-११ वडाला-सीएसएमटी
राज्य वैâबिनेट की बैठक में मुंबई मेट्रो मार्ग-११ वडाला से छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस को मंजूरी दी गई। इस मार्ग की लंबाई १२.७७४ किमी है। वडाला से शिवड़ी ४ किमी एलिवेटेड मार्ग और शिवड़ी से सीएसएमटी तक ८.७६५ किमी भूमिगत मार्ग होगा। इस मार्ग पर दो एलिवेटेड और ८ भूमिगत कुल १० स्टेशन होंगे। इस योजना की लागत ८ हजार ७३९ करोड़ रुपए है। मार्च, २०२६ तक यह योजना पूरी होगी। इस योजना के पूरा होने पर प्रतिदिन ११ लाख ६० हजार यात्री इस मार्ग का उपयोग करेंगे। २०३१ तक यह संख्या बढ़कर १६ लाख ८० हजार हो जाएगी, ऐसा अनुमान है। इस योजना से खास कर मुंबईकरों को लाभ मिलेगा।
मेट्रो-१२ कल्याण से तलोजा
कल्याण से तलोजा मुंबई मेट्रो मार्ग-१२ को कल वैâबिनेट में मंजूरी दी गई। इस मेट्रो मार्ग की लंबाई २०.७५ किमी है। यह संपूर्ण योजना एलिवेटेड होगी। इस योजना की कीमत ५ हजार ८६५ करोड़ रुपए है। मार्च, २०२४ तक यह योजना पूरी होगी। यह योजना एमएमआरडीए, राज्य सरकार, सिडको और एमआईडीसी की सहभागिता से पूरी होगी। इस योजना के माध्यम से कल्याण-डोंबिवली के शहरी भाग, २७ गांव, नई मुंबई को जोड़ने में मदद मिलेगी। कल्याण-तलोजा, नई मुंबई, नई मुंबई हवाई अड्डा इन क्षेत्रों के नागरिकों को इस योजना का भारी फायदा होगा। बता दें कि मेट्रो-५ ठाणे-भिवंडी-कल्याण, नई मुंबई मेट्रो मार्ग और मेट्रो-१२ कल्याण से तलोजा तक प्रस्तावित है।

मेट्रो-२ ए – दहिसर से डीएन नगर
लंबाई- १८.६ किमी
कार्य शुरू-२०१६ में
लागत- रु. ६,४१० करोड़
अब तक खर्च- रु. १,३५१.४२ करोड़
लक्ष्य- २०२०-२१
वर्तमान स्थिति- ६३ प्रतिशत कार्य पूरा

मेट्रो-२बी- डीएन नगर से मंडाले
लंबाई- ३२.६ किमी
कार्य शुरू – २०१७ में
लागत- रु. १०,९८६ करोड़
अब तक खर्च- रु. १९६.३१ करोड़

मेट्रो-३ कुलाबा-बांद्रा-सीप्ज
लंबाई- ३३.५ किमी
कार्य शुरू- २०१५ में
लागत- रु. २३,१३६ करोड़
खर्च- अब तक रु. ९,४०२.०९ करोड़
वर्तमान स्थिति- ५५ फीसदी काम पूरा
लक्ष्य- २०२०-२१ में पूरा

मेट्रो-४ वडाला-घाटकोपर-ठाणे- कासारवडवली
लंबाई- ३२ किमी
कार्य शुरू- २०१७ में
लागत- रु. १४,५४९ करोड़
अब तक खर्च- रु. २२७.९८ करोड़
वर्तमान स्थिति- कार्य प्रगति पर

मेट्रो-५ ठाणे-भिवंडी-कल्याण
लंबाई- २४.९ किमी
स्टेशन-१७
लागत- रु. ८,४१६ करोड़
वर्तमान स्थिति- कार्य प्रगति पर

मेट्रो-६ स्वामी समर्थ नगर से विक्रोली
लंबाई- १४.५ किमी
कार्य शुरू- २०१८ में
अनुमानित लागत- रु. ६,७१६ करोड़
अब तक खर्च- रु. २०१.३० करोड़

मेट्रो- ७ अंधेरी (पूर्व) से दहिसर (पूर्व)
लंबाई-१६.५ किमी
कार्य- २०१६ में
अनुमानित लागत- रु. ६,२०८ करोड़
अब तक खर्च- रु. १,५६१.०४ करोड़
वर्तमान स्थिति- ६७ प्रतिशत कार्य पूरा
लक्ष्य- २०२०-२१ में पूरा

मेट्रो-८ रूट-मुंबई एयरपोर्ट- मानखुर्द- नई मुंबई एयरपोर्ट
लंबाई-३५ किमी
मेट्रो-३- मेट्रो-७ से होगी कनेक्ट

मेट्रो-९ दहिसर (पूर्व) से मीरा-भाइंदर
लंबाई-१०.३ किमी
स्टेशन-८
वर्तमान स्थिति- कार्य प्रगति पर