" /> मुंबई महानगरपालिका के बुजुर्ग स्टाफ को- वर्क फ्रॉम होम : स्वास्थ्यकर्मी स्टाफ को 2 हफ्ते की छुट्टी

मुंबई महानगरपालिका के बुजुर्ग स्टाफ को- वर्क फ्रॉम होम : स्वास्थ्यकर्मी स्टाफ को 2 हफ्ते की छुट्टी

मुंबई मनपा अपनाएगी मुंबई पुलिस का फार्मूला!
कोरोना के खिलाफ जंग में योद्धा रहे डॉक्टरों, नर्सों, स्वास्थ्यकर्मियों को बृहन्मुंबई महानगर पालिका अब राहत देने जा रहा है। बीएमसी ने 55 साल की उम्र पूरी कर चुके स्टाफ को अब घर से काम की सुविधा दे दी है। यही नहीं जो स्टाफ किसी तरह की बीमारी से पीड़ित हैं, बीएमसी ने उन्हें 2 सप्ताह की छुट्टी दे दी है।
मुंबई भारत में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित शहर है। यहां कोरोना को काबू करने में मनपा कर्णचारियों की अहम भूमिका रही है। हालांकि इस दौरान कई स्टाफ कोरोना की चपेट में भी आ गए हैं। मनपा ने 55 साल की उम्र के अपने कर्मचारियों और अधिकारियों को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दी है। मुंबई पुलिस दो दिन पहले ही अपने जवानों को ये सुविधा दे चुकी है और उन्हें छुट्टी पर भेज चुकी है। मुंबई पुलिस के मुताबिक जिनकी उम्र 55 वर्ष से अधिक है और जो जवान पहले से किसी बीमारी से पीड़ित हैं। ऐसे पुलिसकर्मियों को छुट्टी पर जाने के लिए कहा गया है। मनपा के डॉक्टर, नर्स और पैरामेडिकल स्टाफ जिनकी उम्र 55 साल से अधिक है तथा जिन कर्मचारियों को पहले से ही उच्च रक्तदाब, मधुमेह और हृदय एवं किडनी की बीमारी हैं, उन्हें दो सप्ताह तक घर पर ही रहने को कहा गया है। हालांकि अन्य सभी कर्मियों की कार्यालयों और फील्ड ड्यूटी पर मौजूदगी अनिवार्य है।