मुंबई में ‘डी’ की ५ प्रॉपर्टी जप्त!

अंडरवर्ल्ड का माफिया डॉन दाऊद इब्राहिम कासकर और उसकी ‘डी’ कंपनी के खिलाफ कानून का शिकंजा कसता जा रहा है। एक तरफ हिंदुस्थान-पाकिस्तान के बीच जारी तनाव के कारण पाकिस्तान ‘डी’ से पीछा छुड़ाने का रास्ता ढूंढ़ रहा है तो वहीं दूसरी तरफ ‘डी’ से जुड़े लोगों पर हिंदुस्थानी जांच एजेंसियों का प्रहार शुरू हो गया है। इसकी शुरुआत ‘डी’ के गुर्गों की लगातार हो रही गिरफ्तारी और उनकी नामी-बेनामी संपत्तियों की जब्ती के रूप में सामने आई है।
बता दें कि बीते दिनों ‘डी’ की मरहूम बहन हसीना आपा की संपत्ति जप्त की गई थी। नागपाड़ा के गार्डन हॉल स्थित उक्त फ्लैट को तस्करी एवं विदेशी मुद्रा हेरफेर अधिनियम (सफेमा) के तहत जप्त किया गया था। ‘डी’ का भाई इकबाल कासकर गिरफ्तारी से पहले उक्त फ्लैट में रहता था। अब खबर है कि ‘डी’ के एक और गुर्गे की बेनामी संपत्ति कोर्ट के आदेश पर जप्त की गई है। उक्त बेनामी संपत्ति के जप्ती की कार्रवाई को म्हाडा ने जेजे मार्ग पुलिस के सहयोग से अंजाम दिया है। इस बारे में पूछे जाने पर जेजे मार्ग पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक शिरीष गायकवाड ने कहा कि संपत्ति किसकी थी? यह हम नहीं जानते लेकिन हाईकोर्ट ने दक्षिण मुंबई के पाकमोडिया स्ट्रीट स्थित मुसाफिरखाना के फ्लैट क्रमांक २३, २४, २५, ३४ और ३६ को जप्त करने का निर्देश दिया था, जो कि बेनामी संपत्ति थी। इस कार्रवाई के लिए सुरक्षा व्यव्स्था हमने उपलब्ध कराई थी। गौरतलब हो कि दक्षिण मुंबई का पाकमोडिया स्ट्रीट ‘डी’ यानी दाऊद का गढ़ और मुसाफिर खाना को उसका घर कहा जाता है। सूत्रों का कहना है कि जप्त किए गए फ्लैट ‘डी’ के करीबी खालिद पहलवान के थे।