मुंबई में दंगे का टेंशन!, जैश की साजिश

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई पर एक बार फिर आतंकियों का काला साया मंडरा रहा है। इस बार आतंकियों द्वारा यहां कम्युनल टेंशन पैâलाने की साजिश रची जाने की चर्चा एजेंसियों के बीच जोरों पर है। इस साजिश में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का नाम सामने आ रहा है। इस टेंशन के लिए जैश हिंदुस्थान में छिपे आइसिस के स्लीपर मोड्यूल की मदद ले सकता है। एहतियात के रूप में मुंबई के सभी पुलिस स्टेशनों को इस कम्युनल टेंशन को लेकर अलर्ट किया है।
बता दें कि पिछले कई वर्षों से वांटेड जैश के आतंकी अब्दुल मजीद बाबा को दिल्ली पुलिस ने श्रीनगर से गिरफ्तार किया है। अब्दुल मजीद पर करीब दो लाख रुपए का इनाम भी घोषित था। सोपोर का रहनेवाला अब्दुल मजीद आतंकी पैâयाज अहमद लोन का करीबी साथी बताया जाता है। ट्रांजिट रिमांड पर दिल्ली लाए गए अब्दुल मजीद ने पूछताछ में दिल्ली पुलिस के समक्ष कई खुलासे किए हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक बनिहाल सुरंग के पास सीआरपीएफ काफिले को निशाना बनाकर किए गए कार बम विस्फोट को पैâयाज लोन ने ही अंजाम दिया था। पैâयाज लोन को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। सुरक्षा एजेंसियों की करीबियों की मानें तो लोन और बाबा ने मुंबई में नए आतंकी वारदात को अंजाम देने का राज उगला है। करीबियों पर अगर भरोसा करें तो इस बार यहां जैश ने कम्युनल दंगा पैâलाने की साजिश रची है। कहा यह भी जा रहा है हिंदुस्थान में सक्रिय आइसिस के स्लीपर मॉड्यूल की मदद इस आतंकी वारदात में लेने की मंशा जैश ने बनाई है। बताया यह भी जा रहा है कि स्लीपर मोड्यूल के सदस्य मस्जिदों में कोई अनहोनी घटना को अंजाम देकर शांतिप्रिय मुंबई में हिंदू-मुस्लिम के बीच दंगा पैâला सकते हैं। हालांकि मुंबई पुलिस के आला-अफसर इस संदर्भ में कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। मुंबई पुलिस के उपायुक्त मंजुनाथ सिंगे ने बताया कि एहतियात के रूप में सभी पुलिस स्टेशनों को अलर्ट किया गया है। सभी धार्मिक स्थलों पर विशेष सुरक्षा मुहैया कराई गई है। इतना ही नहीं कम्युनल दंगे को रोकने के लिए सोशल मीडिया पर विशेष नजर रखी जा रही है ताकि आपत्तिजनक पोस्ट पर नकेल कसी जा सके।