मुंबई युनिवर्सिटी के लिए युवासेना ने बनाई विकास की रूपरेखा

मुंबई युनिवर्सिटी के कैंपस में मुफ्त वाई-फाई, साइकिलिंग ट्रैक, सुसज्ज वाचनालय और विद्यार्थियों की समस्या का निवारण करने के लिए सभी उपकेंद्रों में `विद्यार्थी दरबार’ का आयोजन करने की रूपरेखा युवासेना ने तैयार की है। इस विकासवाली रूपरेखा को कल युवासेना ने कुलगुरु डॉ. देवानंद शिंदे को सौंपा है। कुलगुरु ने सकारात्मक प्रतिसाद देते हुए जल्द से जल्द उक्त मांगों को पूरा करने का आश्वासन युवासेना के सीनेट सदस्यों को दिया है।
बता दें कि युवासेना के सीनेट सदस्यों ने कल विद्यार्थियों की अनेक समस्याओं और प्रलंबित प्रश्नों को लेकर युनिवर्सिटी से जवाब मांगा। इस अवसर पर सभी सीनेट के सदस्यों ने कुलगुरु को निवेदन दे युनिवर्सिटी के विकास के लिए ठोस उपाय योजना करने की मांग की। कल मुंबई युनिवर्सिटी द्वारा सालाना बजट भी पेश किया गया। मुंबई विश्वविद्यालय के वर्ष २०१८-१९ के विकास कार्यों के लिए कल ५७२.६० करोड़ रुपए की निधि का प्रावधान किया गया है जिसे सीनेट ने मंजूर भी किया है। इस बजट में विद्यार्थी भवन, कौशल्य विकास केंद्र, शिक्षक-कर्मचारियों के लिए भवन, विद्यार्थियों के लिए भवन, अतिथिगृह, डाटा सेंटर, प्लेसमेंट सेंटर आदि का निर्माण किया जाएगा। इस अवसर पर सीनेट सदस्य विधायक एड. अनिल परब, प्रदीप सावंत, महादेव जगताप, राजन कोलंबेकर, शशिकांत झोरे, डॉ. सुप्रिया करंडे, प्रवीण पाटकर, मिलिंद साटम, शीतल सेठ, देवरुकर, निखिल जाधव, धनराज कोहचाडे, वैभव थोरात, प्रवीण गोंजाल्विस, सानिया नागोठणे आदि उपस्थित थे।