मुंबादेवी की शरण में आए वाड्रा

मुंबई स्थित मुंबादेवी के बारे में कहा जाता है कि कोई भी व्यक्ति श्रद्धापूर्वक उनकी शरण में जाता है तो उसकी मनोकामना मां मुंबादेवी अवश्य पूरा करती हैं। इन दिनों विभिन्न विवादों में घिरे कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा कल मुंबादेवी की शरण में जाकर क्या-क्या मन्नतें मांगीं? इसको लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। बताया जाता है कि रॉबर्ट वाड्रा ने विभिन्न सरकारी एजेंसियों द्वारा चल रही जांच से मुक्ति दिलाने की मन्नत मां मुंबादेवी से मांगी है, वहीं यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि वाड्रा ने केसों से मुक्ति के अलावा सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुक्ति दिलाने की मन्नत मां मुंबादेवी से मांगी होगी। इसी प्रकार के कई कयास वाड्रा की मन्नत को लेकर लगाए जा रहे हैं।
इस मौके पर मीडिया के लोगों ने वाड्रा से बातचीत करने का प्रयास किया परंतु वाड्रा ने राजनीति पर बोलने से इंकार कर दिया। वाड्रा देवी का दर्शन करके वापस लौट रहे थे, उसी समय कुछ लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम की नारेबाजी करने लगे। नारेबाजी करनेवालों से मीडियावालों ने पूछा कि क्या आप भाजपा के हैं? तो नारेबाजी करनेवालों ने कहा कि हमें एक बार फिर मोदी सरकार चाहिए इसलिए मोदी नाम के नारे लगा रहे हैं। इस मौके पर रॉबर्ट वाड्रा से मीडियावालों ने पूछा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिवंगत प्रधानमंत्री राजीव गांधी के संबंध में जो बयान दिया है, उससे देश में वातावरण गरम है? इस पर वाड्रा ने कहा कि मैं देवी का दर्शन करने आया हूं। अच्छा दर्शन हुआ है। मैं राजनीति के बारे में कुछ नहीं बोलूंगा।