" /> उद्धव सरकार ने भेजा 9.82 लाख उत्तर भारतीय श्रमिकों को गांव- गृहमंत्री अनिल देशमुख

उद्धव सरकार ने भेजा 9.82 लाख उत्तर भारतीय श्रमिकों को गांव- गृहमंत्री अनिल देशमुख

भाजपा उत्तर भारतीय श्रमिकों को उनके मूल गांव भेजने को लेकर जहां राजनीति कर रही है, वहीं मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार ने अब तक करीब 9 लाख 82 हजार उत्तर भारतीय श्रमिकों को उनके गांव भेजा है। महाराष्ट्र सरकार ने श्रमिकों के रेल किराए का करोड़ों रुपये का भुगतान भी किया है।
गृहमंत्री अनिल देशमुख के अनुसार
राज्य में काम करनेवाले श्रमिकों को उनके घरों की वापसी के लिए महाराष्ट्र, खासकर मुंबई से विशेष व्यवस्था की गई है। उत्तर भारतीय श्रमिकों को घर वापस भेजने के लिए महाराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों से 696 विशेष श्रमिक ट्रेन छोड़ी गई।
गृहमंत्री ने बताया कि अब तक उत्तर प्रदेश के लिए 374, बिहार 169, मध्य प्रदेश 33, झारखंड 30, कर्नाटक 6, उड़ीसा 13, राजस्थान 15, पश्चिम बंगाल 33 और छत्तीसगढ़ के लिए 6 सहित अन्य राज्यों के लिए 696 ट्रेनें छोड़ी गई हैं। छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस से 111 ट्रेन, लोकमान्य तिलक टर्मिनस से 112, पनवेल से 42, भिवंडी से 10, बोरिवली से 52, कल्याण से 8, ठाणे से 28, बांद्रा टर्मिनल से 58, पुणे से 69, कोल्हापुर से 23, सातारा से 13, संभाजीनगर से 12, नागपुर से 14 ट्रेन समेत राज्य के अन्य रेलवे स्टेशनों से रेल से उत्तर भारतीय श्रमिकों को उनके गांव भेजा गया है।