मुख्यमंत्री का इस्तीफा कनेक्टर पर कंफ्यूज!, आज खुलेगा बीकेसी-चुनाभट्ठी फ्लाईओवर

चुनाभट्ठी से बीकेसी को जोड़नेवाले १.६ किमी का कनेक्टर बनकर तैयार हो चुका है। इस कनेक्टर के शुरू होने का इंतजार मुंबईकर बेसब्री से कर रहे हैं। ९ नवंबर यानी आज इस कनेक्टर को यात्री सुविधा के लिए खोला जाना है लेकिन इस कनेक्टर को खोलने से महज एक दिन पहले ही कल मुख्यमंत्री ने इस्तीफा दे दिया। ऐसे में अब कनेक्टर को बिना किसी तामझाम के खोला जाए या फिर उद्घाटन कराकर। इस बात को लेकर कल एमएमआरडीए का पूरा सिस्टम कंफ्यूज था। दरअसल इस कनेक्टर को तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों खोले जाने की योजना एमएमआरडीए की थी।
बता दें कि इस एलिवेटेड फ्लाईओवर के शुरू होने पर चुनाभट्ठी से बीकेसी की दूरी तय करने में महज १५ मिनट का समय लगेगा। बीकेसी को चुनाभट्ठी से कनेक्ट करनेवाले इस फ्लाईओवर के शुरू हो जाने से यह अनुमान लगाया जा रहा है कि एलबीएस रोड, सायन, कुर्ला-सीएसटी रोड पर होनेवाले ट्रैफिक का टेंशन काफी हद तक खत्म हो जाएगा। साथ ही बीकेसी पहुंचने के लिए ३ किलोमीटर की दूरी लोगों को कम तय करनी पड़ेगी। ४ लेनवाले इस फ्लाईओवर की लागत करीब २०३ करोड़ रुपए है।
इस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे के चुनाभट्ठी से यह फ्लाईओवर शुरू होगा। इस फ्लाईओवर से महज १० से १५ मिनट में बीकेसी का सफर तय हो पाना संभव होगा। यह फ्लाईओवर बीकेसी में जिस जगह पर उतरेगा वह हिस्सा बीकेसी का सेंटर पॉइंट है। मतलब फ्लाईओवर से उतरने के बाद बीकेसी के किसी भी स्थान पर आसानी से जाया जा सकता है। यह फ्लाईओवर चुनाभट्ठी स्थित सोमैया मैदान से शुरू होगा। उसके बाद चुनाभट्ठी व सायन रेलवे स्टेशन, एलबीएस रोड तथा मीठी नदी से होते हुए बीकेसी डायमंड मार्वेâट के पीछे उतरेगा।

किसे होगा फायदा?
बीकेसी- सायन रूट पर सफर के समय में करीब ३० मिनट की बचत होगी। फ्लाईओवर के कारण कुर्ला और सायन, सायन-धारावी लिंक रोड और सांताक्रुज-चेंबूर लिंक रोड के बीच पड़नेवाले इस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे और एलबीएस मार्ग पर होनेवाली ट्रैफिक की समस्या खत्म होगी। ये दोनों ही लिंक का इस्तेमाल बीकेसी या इस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे तक पहुंचने के लिए किया जाता है।