मुझे जिले-जिले में भगवा क्रांति चाहिए!, उद्धव ठाकरे का आहवान, धाराशिव में बही भगवा धारा

छत्रपति शिवाजी महाराज की जन्मस्थली महाराष्ट्र में देशभक्त ही जन्म लेते हैं, देशद्रोही नहीं। जनता के भविष्य को तय करनेवाला यह चुनाव है। इस चुनाव में महायुति के कार्यकर्ता महाराष्ट्र के प्रत्येक जिले में भगवा क्रांति लाएं, ऐसा आह्वान कल शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने किया। धाराशिव लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से महायुति के उम्मीदवार ओमराजे निंबालकर की चुनावी प्रचार सभा का आयोजन जिला कारागार के पीछे स्थित खुले मैदान में किया गया था। इस चुनावी प्रचार सभा में उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस-राकांपा महाआघाड़ी के खिलाफ जमकर तोप दागी।
कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र पर हमला बोलते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणापत्र में कहा है कि सत्ता आने पर देशद्रोह का कानून रद्द कर दूंगा और जम्मू-कश्मीर में धारा ३७० को बरकरार रखूंगा। उद्धव ठाकरे ने उपस्थित जनसमुदाय से सवाल किया कि तुम्हें देशद्रोहियों को संरक्षण देनेवाली सरकार चाहिए या राष्ट्रप्रेमी सरकार? उद्धव ठाकरे के इस सवाल पर जनसमुदाय ने हाथ उठाकर एक स्वर में कहा कि राष्ट्रप्रेमी सरकार चाहिए। ऐसे ही एक सवाल के जवाब में धारा ३७० हटनी ही चाहिए, ऐसा भी जनसमुदाय ने एक स्वर में कहा।

देशद्रोह का कानून रद्द करने की बात करनेवाले के साथ जाकर शरद पवार किस राष्ट्रवादी की व्याख्या में बैठते हैं? कांग्रेस-राकांपा की महाआघाड़ी मजबूरी की है, जबकि शिवसेना-भाजपा की महायुति स्वाभिमान की है। शरद पवार संभाजीनगर में राजीव गांधी के समक्ष नतमस्तक हुए थे। सोनिया गांधी के मुद्दे पर कांग्रेस से अलग हुए थे। आज फिर उसी कांग्रेस से आघाड़ी किए हुए हैं। यह पवार की लाचारी नहीं तो और क्या है? ऐसा सवाल करते हुए शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने पूछा कि क्या तुम्हें पवार जैसा प्रधानमंत्री चाहिए? इस पर जनसमुदाय ने कहा नहीं-नहीं! धाराशिव लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से महायुति के उम्मीदवार ओमराजे निंबालकर की चुनावी प्रचार सभा को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस-राकांपा महाआघाड़ी के खिलाफ जमकर तोप दागी।
स्वातंत्र्यवीर सावरकर का अपमान करनेवाले राहुल गांधी पर उद्धव ठाकरे ने जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सावरकर का अपमान करनेवाले के लिए नालायक शब्द भी कम है। कांग्रेस के घोषणापत्र का पंचनामा करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि राहुल गांधी कहते हैं कि उनकी सरकार सत्ता में आई तो देशद्रोह की धारा हटाई जाएगी। इसका मतलब यह धारा हटाने के बाद देश में कोई कुछ भी करे, उसे सजा नहीं मिलेगी। मुझे समझ में नहीं आ रहा है कि राहुल गांधी का दिमाग ठिकाने पर है या नहीं। सावरकर के बारे में उन्होंने जो भी कहा है, उसकी क्लिप मेरे पास है। जो सावरकर के खिलाफ बोलता है, उसके लिए नालायक शब्द भी कम है। उद्धव ठाकरे ने कहा कि जो हम जनता और किसान को वचन देते हैं, उसे पूरा करते हैं। मुंबईकरों को ५०० वर्गफुट तक के घरों का प्रॉपर्टी टैक्स माफ करने का जो वचन दिया था, उसे पूरा किया और प्रॉपर्टी टैक्स माफ किया। हमारी महायुति के संकल्पपत्र में राम मंदिर निर्माण का उल्लेख है। कांग्रेस के घोषणापत्र में राम मंदिर का उल्लेख भी है क्या? उन्होंने उपस्थित जमसमुदाय से आह्वान किया कि महाराष्ट्र की सभी सीटों पर भगवा लहराना चाहिए। सभी सीटों पर शिवसेना-भाजपा महायुति के वोटों में भारी इजाफा होना चाहिए। मुझे ऐसी विजय चाहिए कि विरोधी दल का उम्मीदवार अगले चुनाव में खड़ा न रह सके, ऐसा आह्वान उद्धव ठाकरे ने उपस्थित जनसागर से किया। महायुति के उम्मीदवार ओमराजे निंबालकर को भारी मतों से विजयी बनाने का आह्वान भी उद्धव ठाकरे ने किया।