मुफ्त पार्किंगस्थलों पर असामाजिक तत्वों का कब्जा

मुंबई के हाई प्रोफाइल इलाकों के मुफ्त पार्किंगस्थलाें पर असामाजिक तत्वों का कब्जा है। इन पार्किंगस्थलों पर अवैध रूप से कब्जा कर पार्किंग के नाम पर वाहन चालकों से अवैध वसूली कर रहे हैं। कल हुई मनपा के एक औचक निरीक्षण में इस अवैध वसूली का भंडाफोड़ हुआ है। इसके बाद पार्किंग के नाम पर हो रही अवैध वसूली पर नकेल कसने के लिए तीन विशेष टीमें गठित करने का मन मनपा प्रशासन ने बनाया है।
बता दें कि शहर और उपनगरों में कुल ३२ मुफ्त पार्किंगस्थल हैं, जहां वाहनों की पार्किंग मुफ्त होगी लेकिन इन पर असामाजिक तत्वों ने कब्जा कर रखा है। कल अतिरिक्त मनपा आयुक्त विजय सिंघल के मार्गदर्शन में हुए मुफ्त पार्किंगस्थलाें के औचक निरीक्षण में हाई प्रोफाइल इलाकों के पार्किंगस्थल पर इस अवैध वसूली का भंडाफोड़ हुआ। औचक निरीक्षण में फ्री प्रेस जनरल मार्ग, मुंबई समाचार मार्ग, महाकवि भूषण मार्ग और मरीन ड्राइव पर पुलिस जिमखाना से हिंदू जिमखाना के मुफ्त पार्किंगस्थल पर वाहनचालकों से पार्किंग नाम पर अवैध वसूली की जा रही थी। इस वसूली को लेकर संबंधित लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने में मनपा जुटी हुई है। इसको देखते हुए अन्य इलाकों के मुफ्त पार्विंâगस्थलों तथा अवैध रूप से चलाए जा रहे पार्किंगस्थल की नियमित जांच के लिए विजय सिंघल ने सड़क विभाग के साथ ही सहायक मनपा आयुक्तों को तीन विशेष टीमों का गठन करने का निर्देश दिया है। मुफ्त पार्किंगस्थल के अलावा मुंबई पुलिस आयुक्त की नाक के नीचे पुलिस मुख्यालय के समीप वैध पार्किंगस्थल पर भी अवैध वसूली शुरू होने की बात सामने आई है। यहां भी वाहन चालकों से ठेकेदार मनमाना रुपए वसूल रहे हैं। बताया जाता है कि जोन एक के तत्कालीन पुलिस उपायुक्त मनोज शर्मा ने अवैध वसूली के लिए ठेकेदार को रंगेहाथ पकड़ा था। इसके बाद मामला कुछ दिनों तक शांत रहा लेकिन फिर से यहां अवैध वसूली शुरू हो गई है।