मुफ्त सेटटॉप बॉक्स से ५ लाख घरों में ई-एजुकेशन! उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में समझौता

राज्य सरकार द्वारा शुरू किए गए उपक्रम के तहत सिंधुदुर्ग सहित महाराष्ट्र के ५ जिलों के ५ लाख घरों में मुफ्त सेटटॉप बॉक्स द्वारा मुफ्त इंटरनेट सेवा उपलब्ध कराई जाएगी। जिससे विद्यार्थियों को ई-एजुकेशन दिया जाएगा। इसी तरह सावंतवाड़ी में एशिया का सबसे बड़ा डेटा सेंटर बनाया जाएगा। इसके लिए शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे की प्रमुख उपस्थिति में ‘बीएसएनएल’ और ‘स्ट्रीमकास्ट’ के बीच समझौता हुआ है। इस समझौते के कारण सिंधुदुर्ग समेत महाराष्ट्र के ५ जिलों में तकनीकी क्रांति आएगी, ऐसी शुभकामनाएं उद्धव ठाकरे ने दी।
फायबर ऑप्टिक केबल के माध्यम से शुरुआत में सिंधुदुर्ग जिले में बीएसएनएल ने इंटरनेट का जाल पैâलाया है, जिसका इस्तेमाल कर स्ट्रीमकास्ट के माध्यम से यहां के एक लाख घरों में मुफ्त इंटरनेट सेवा उपलब्ध कराकर विद्यार्थियों को ई-लर्निंग की शिक्षा दी जाएगी। शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे की प्रमुख उपस्थिति में इसका समझौता हुआ है। विद्यार्थियों की पीठ के बस्ते का भार कम करने के लिए शिवसेना ने उनके हाथों में लैप-टॉप दिया है। ८वीं से १०वीं तक का पाठ्यक्रम एक एसडी कार्ड के माध्यम से विद्यार्थियों को दिया गया है। वर्चुअल क्लास रूम के जरिए विद्यार्थियों को विशेष शिक्षकों का मार्गदर्शन मनपा दे रही है, जिसका उद्देश्य शिक्षा का स्तर बढ़ाना था। अब ई-लर्निंग के माध्यम से विद्यार्थियों को इसी तरह विशेषज्ञों का मार्गदर्शन मिलेगा। देश ही नहीं, विदेशों के विशेषज्ञों का मार्गदर्शन पाना अब संभव होने की बात उद्धव ठाकरे ने कही। इस मौके पर गृह राज्यमंत्री दीपक केसरकर ने कहा कि सिंधुदुर्ग जिला में बालासाहेब ठाकरे ज्ञान प्रबोधिनी शुरू की जाएगी। इसके माध्यम से जिले के ८ तालुका में ज्ञान प्रबोधिनी का केंद्र शुरू कर प्रतियोगिता परीक्षा की शिक्षा दी जाएगी। इस कार्यक्रम में गृह राज्यमंत्री दीपक केसरकर, मुख्यमंत्री के ओएसडी कौतुभ धवसे, बीएसएनएल के अधिकारी पीयूष खरे, स्ट्रीमकास्ट के निमिष पंड्या, अशिमा आदि उपस्थित थे।