मेट्रो डेक पर लगेंगे एंटी स्किड पेंट और ब्रेकर

कुलाबा-बांद्रा-सीप्ज मुंबई मेट्रो-३ के अंडर ग्राउंड मेट्रो स्टेशन के निर्माण को लेकर जहां-जहां डेक बनाए गए हैं, उन डेकों पर मेट्रो प्रशासन ने एंटी स्किड पेंट और ब्रेकर लगाने का फैसला किया है। यह निर्णय मेट्रो-३ ने ‘दोपहर का सामना’ द्वारा ‘शबनम से संभाल के’ नामक शीर्षक से खबर प्रकाशित होने के बाद लिया है।
मेट्रो-३ के कॉरिडोर पर जहां भी अंडरग्राउंड स्टेशन का काम चल रहा है, वहां मेट्रो प्रशासन ने वाहनचालकों के रास्ते ब्लॉक न हों इसलिए एलिवेटेड डेक बनाए हैं। मुंबई में मेट्रो प्रशासन ने ऐसे लगभग २० डेक बनाए हैं, जिस पर से वाहनों का आवागमन रोजाना होता है परंतु यात्रियों की सहूलियत के लिए बनाया गया मेट्रो का यह डेक वाहनचालकों के लिए खतरा साबित हो रहा है। लोहे के डेक पर सुबह की शबनम (ओस) गिरने से बाइक स्लिप हो रही है। हाल ही में मुंबई सेंट्रल-पूर्व स्थित मराठा मंदिर सिनेमा के पास मेट्रो के डेक पर कुछ घटनाएं हुई थीं। इन दुर्घटनाओं में चार वाहनचालक घायल हुए, जिसमें एक महिला का भी समावेश था।
स्टील डेक पर वाहनों के स्किड होने की घटनाओं को संज्ञान में लेते हुए हमने डेक पर एंटी स्किड पेंट्स लगाने का पैâसला किया है। हम डेक पर वाहनों की स्पीड को कम करने के लिए ट्रैफिक विभाग से अनुमति लेकर स्पीड ब्रेकर भी लगाएंगे साथ ही डेक से गुजरते समय वाहनचालक २० किमी प्रति घंटा की रफ्तार से वाहन चलाएं, इसे लेकर जागरूकता अभियान भी चलाएंगे।
– अश्विनी भिड़े
 (मेट्रो-३ व्यवस्थापकीय संचालक)