" /> मेट्रो 5 कॉरिडोर को मिला 1,786.52 करोड़ का लोन : निर्माण कार्य की बढ़ेगी रफ्तार

मेट्रो 5 कॉरिडोर को मिला 1,786.52 करोड़ का लोन : निर्माण कार्य की बढ़ेगी रफ्तार

ठाणे-भिवंडी-कल्याण के बीच बन रहे मेट्रो-5 कॉरिडोर के निर्माण कार्य की रफ्तार जल्द ही बढ़नेवाली है। कॉरिडोर की रफ्तार बढ़ाने के लिए एशियन इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट बैंक (एआईआईबी) ने मुंबई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण ( एमएमआरडीए ) को करीब 1,786.52 करोड़ रुपए का लोन पास किया है। वर्ष 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कॉरिडोर की आधारशिला रखी थी।

कॉरिडोर के निर्माण कार्य को ठाणे-भिवंडी और भिवंडी- कल्याण ऐसे दो चरणों में विभाजित किया गया है। पहले चरण के तहत ठाणे -भिवंडी मार्ग पर तेजी से निर्माण कार्य चल रहा है। मार्ग में कई पिलर तैयार कर लिए गए है। दूसरे चरण में भिवंडी-कल्याण के मेट्रो रूट में बदलाव करने की मांग स्थानीय लोग कर रहे है। 24.9 किलोमीटर लंबे कॉरिडोर के मार्ग पर कुल 17 एलिवेटेड स्टेशन होंगे।
भिवंडी-कल्याण के बीच सीधे रेल सेवा नहीं होने की वजह से लोग भिवंडी से सड़क मार्ग या ठाणे स्टेशन से लोकल के जरिए कल्याण पहुंचते हैं। बीते कुछ सालों में ठाणे व भिवंडी में तेजी से निर्माण कार्य हुए हैं। इस वजह से इस क्षेत्र की आबादी में बीते कुछ सालों में काफी बढ़ोतरी हुई है। लोगों की यातायात की समस्या खत्म करने के लिए एमएमआरडीए ठाणे-भिवंडी-कल्याण के बीच मेट्रो मार्ग तैयार कर रही है। एमएमआरडीए ने पेस 1 का निर्माण कार्य अक्टूबर, 2022 और फेस-2 काे अक्टूबर, 2024 तक पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया है।