" /> मेडिकल टीम को मिलने लगी सफलता : राज्य में एक दिन में 350 रोगियों को मिली कोरोना से मुक्ति

मेडिकल टीम को मिलने लगी सफलता : राज्य में एक दिन में 350 रोगियों को मिली कोरोना से मुक्ति

मुंबईकरों व पुणेकरों के लिए खुशी की लहर

मुंबई और पुणे में कोरोना के रोगियों की संख्या बढ़ी लेकिन कल का दिन विशेषकर मुंबईकरों ओर पुणेकरों के लिए खुशी का दिन था। कल 350 कोरोना मरीजों को राज्य में विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई। राज्य में यह पहला मौका है कि एक ही दिन इतनी बड़ी संख्या में रोगियों को छुट्टी दी गई है, यह मेडिकल टीम के मेहनत का प्रतिफल है, जिससे रोगियों के रिश्तेदारों को राहत मिलेगी। कल ठीक होकर जानेवालों में मुंबई मंडल में सबसे अधिक 228 कोरोना प्रभावित मरीज ठीक होकर घर गए, उसके बाद 110 मरीज पुणे मंडल में ठीक होकर घर गए है। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने दी।
राज्य में कल तक कुल 2465 कोरोना रोगी ठीक हो चुके हैं। कोरोना रोगियों की ठीक होने की संख्या में इजाफा होने का मुख्य कारण रोगियों का प्रभावी ढंग से इलाज किया जा रहा है। राज्य में कोरोना परीक्षणों के लिए प्रयोगशालाओं की संख्या में वृद्धि से भी बड़ी संख्या में परीक्षण और समय पर रोगियों का इलाज किया जा रहा है। इसी कारण से कोरोना रोगियों के ठीक होने की संख्या बढ़ रही है। ऐसा टोपे ने कहा।
मुंबई महापालिका क्षेत्र में १६५, ठाणे ३, ठाणे मनपा ११, नई मुंबई मनपा १४, कल्याण-डोंबिवली मनपा ७, वसई-विरार मनपा २३, रायगड ३ ,पनवेल मनपा में २ इस प्रकार से मुंबई मंडल में कुल 288 कोरोना प्रभावित रोगी ठीक होकर घर गए। इसी प्रकार पुणे मनपा ७२, पिंपरी-चिंचवड मनपा १४, सोलापूर मनपा २२ व सातारा में 2 रोगी इस प्रकार से पुणे मंडल में कुल ११० कोरोना प्रभावित रोगी ठीक होकर घर गए हैं। अमरावती मनपा १, बुलढाणा १, नागपूर मनपा क्षेत्र में १० कोरोना रोगियों को घर छोड़ा गया है। राज्य की 25 सरकारी और 20 निजी प्रयोगशालाओ में प्रतिदिन सात हजार रोगियों की जांच की जा रही है। ऐसा टोपे ने बताया।