मॉनसून से निपटने के लिए मनपा सज्ज, आयुक्त का ४ का दम

मॉनसून में मुंबईकरों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े, इसके लिए मनपा पूरी तरह से सज्ज हो गई है। कल मॉनसून की तैयारी को लेकर हुई बैठक में मनपा आयुक्त प्रवीण परदेशी ने अपने अफसरों को ४ का दम दिया है। इसमें उन्होंने इस मॉनसून में खतरनाक इमारतों, भूस्खलन क्षेत्रों, सड़क व रेल यातायात सुचारू रहने और जनजीवन बाधित न हो इस पर विशेष रूप से नजर रखने के निर्देश दिए हैं।
बता दें कि कल मनपा मुख्यालय में मनपा आयुक्त प्रवीण परदेशी की अध्यक्षता में महत्वपूर्ण बैठक हुई। इस बैठक में उन्होंने मॉनसून पूर्व कार्यों का जायजा विभिन्न एजेंसियों से लिया। इस बैठक में रेलवे, बेस्ट, म्हाडा, एमएमआरडीए, सेना, नौसेना, पीडब्ल्यूडी, मौसम विभाग, एयरपोर्ट प्राधिकरण, एनडीआरएफ के अधिकारियों सहित मनपा के आलाअफसर मौजूद थे। इस दौरान आयुक्त ने संबंधित विभागों को दिशा-निर्देश जारी किए। शहर और उपनगरों के नालों की सफाई जहां ३१ मई तक पूरा करने का आदेश दिया, वहीं खतरनाक इमारतों के धराशायी होने से पहले इमारतें पूरी तरह से खाली कराने का फरमान जारी किया। सड़कों पर जल-जमाव न हो इसके लिए ३१ मई तक सभी २४ वॉर्डों में पंप कार्यान्वित करने का भी निर्देश उन्होंने दिया। इसके अलावा समुद्री चौपाटियों पर लाइफ गार्ड और दमकल विभाग को आवश्यक सामग्री व सुविधाएं समय पर उपलब्ध करने का निर्देश आयुक्त ने संबंधित विभाग को दिया है। खस्ताहाल पेड़ों की छंटाई, भूस्खलन जगहों पर विशेष नजर, आपदा से निपटने के लिए अस्पतालों में विशेष इंतजाम करने का आदेश संबंधित विभागों को दिया है। आपदा के समय राहत कार्य के लिए कोस्टगार्ड, नौसेना, एनडीआरएफ और सेना से उचित समन्वय साधने का भी निर्देश आयुक्त ने दिया है। मॉनसून में रेल व सड़क यातायात बाधित न हो इसके लिए कड़े उपाय योजना करने की भी बात आयुक्त परदेशी ने कही। आपदा के समय अस्थाई शेल्टर होम की व्यवस्था करने का भी फरमान आयुक्त ने दिया है।

 मुंबई में ३९८ इमारत जर्जर
मुंबई शहर और उपनगरों में ३९८ इमारत अति जर्जर है। इनमें सबसे अधिक इमारत घाटकोपर में है। घाटकोपर में ६४ इमारत जर्जर है। इसके अलावा अंधेरी में ५१ और मुलुंड में ४७ इमारत जर्जर अवस्था में है। इसमें से १९३ इमारतों का मामला न्यायालय में विचाराधीन है। १५९ इमारतों का बिजली व पानी कनेक्शन काटा गया है।
गड्ढे भरने, नालों की सफाई के लिए ३१ मई की डेटलाइन
समुद्री चौपाटी पर ९३ लाइफ गार्ड तैनात
मेनहोल पर बिठाई जाएगी जाली
अन्य प्राधिकरणों से साधेंगे समन्वय
अतिक्रमणों पर होगी कार्रवाई