मोनो को चुभ गए स्वागत के फूल

यात्री सुविधाओं को बढ़ाने के लिए परसों मोनो रेल के दूसरे चरण की सेवा शुरू कीr गई। इस सेवा के स्वागत में लगाए फूल मोनो रेल को चुभ गए। फूल के कारण आई तकनीकी गड़बड़ी के चलते यात्रियों को स्टेशन पर फंसे रहना पड़ा, जिससे एक बार फिर सेवा में आई मोनो डार्लिंग फेल हो गई। दूसरे चरण के उद्घाटन के तुरंत बाद कल यात्रियों को हर बार की तरह ही इस बार भी मोनो डार्लिंग ने परेशान किया।
बता दें कि पहले से परेशानी में चल रही मोनो रेल का पहला दिन परेशानी भरा रहा। मोनो शुरू होने के स्वागत में लगाए गए फूल ने मोनो रेल को कुछ देर तक के लिए ठप कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को दोपहर १२ बजे के लगभग मोनो रेल में तकनीकी खराबी आ गई। इसके चलते यात्रियों को ट्रेन से उतार कर दूसरी ट्रेन में सवार किया गया। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। रविवार को दूसरे चरण के उद्घाटन के लिए जो फूल लगाए गए थे उसका एक तार मोनो रेल में फंस गया, जिससे चलते सेवाएं बाधित रहीं। मोनो रेल के जनसंपर्क अधिकारी दिलीप कवठकर ने बताया कि यह गड़बड़ी कुछ मिनट ही रही। हमने तुरंत ही इसे ठीक करते हुए रेल सेवा को शुरू कर दिया।
 पहले दिन की कमाई `४.४८ लाख
चेंबूर से संत गाडगे महाराज चौक तक चली मोनो रेल ने पहले दिन अच्छी कमाई की। रात ८ बजे तक मोनो से २३,६५७ यात्रियों ने सफर किया जबकि मोनो के पहले दिन की कमाई रात ८ बजे तक ४ लाख ४८ हजार ५३७ रुपए हुई। वडाला से चेंबूर और वडाला से संत गाडगे महाराज चौक तक प्रत्येक रूट पर कुल मिलाकर ५ बजे तक १०६ अप-डाउन सेवाएं संचालित हुर्इं।