मौजमस्ती के लिए चुराता था चेक, आधार कार्ड दिखाकर फंसा चोर

मौजमस्ती के लिए बैंक से चेक चुरानेवाले चोर ने चोरी से पहले एक बैंककर्मी को अपना आधारकार्ड दिखाया था। आधार कार्ड दिखाना ही इस चोर की गिरफ्तारी की वजह बन गई। उक्त बैंककर्मी को आधारकार्ड में लिखा चोर का नाम याद रह गया। पुलिस ने उसके नाम से पेसबुक पर उसका हुलिया और मित्रों के बारे में जानकारी जुटाई तथा फेसबुक के खास मित्रों से उक्त चोर का पता ढूंढ़ निकाला तथा उसे ४८ घंटे के अंदर दबोच लिया।

बता दें कि कांदिवली पश्चिम स्थित कॉर्पोरेशन बैंक में स्वैâनिंग के लिए रखे गए ५९ चेक चोरी हो गए थे। इसकी शिकायत बैंक के मैनेजर ने कांदिवली पुलिस थाने में दर्ज कराई थी। वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक नीतीन पोंदुकले के मार्गदर्शन व पीआई रवि आडाने के नेतृत्व में पीएसआई दीपक हिंडे व सहयोगियों ने सीसीटीवी फुटेजों की जांच की। एक फुटेज में एक संदिग्ध पुलिस के रड़ार में आ गया। उक्त संदिग्ध को एक बैंककर्मी ने पहचान लिया क्योंकि उसने अपना आधारकार्ड उसे दिखाया था। ४८ घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने अशोक गाढवे नामक उक्त संदिग्ध को पुणे से दबोच लिया। अशोक बैंकों में चोरी के इरादे से हफ्ते में एक बार मुंबई आता था तथा चोरी करने के बाद वापस पुणे भाग जाता था। अशोक के पास से पुलिस ने ४६,३३,५९४ रुपए के ५९ चेक भी बरामद किए हैं।