मौत को मात देगी ‘दीवार’, रेलवे बनाएगी झोपड़पट्टियों के पास दीवार

ठाणे से सटे कलवा, मुंब्रा और दिवा स्टेशन की पटरियों के किनारे स्थित झोपड़पट्टियों में रहनेवाले नागरिकों द्वारा आज भी पटरियां धड़ल्ले से पार की जाती हैं। रेलवे पुलिस के अनुसार इन पटरियों को पार करने में पिछले वर्ष सैकड़ों ने अपनी जान गंवाई है। इन दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए रेलवे ने झोपड़पट्टियों के किनारे सुरक्षा दीवार बनाने का निर्णय लिया है।
बता दें कि ठाणे से सटे कलवा, मुंब्रा और दिवा परिसर में भारी संख्या में झोपड़पट्टियां हैं। झोपड़पट्टीवासी, पूर्व से पश्चिम जाने के लिए फ्लाइओवर ब्रिज से न जाकर इन पटरियों को पार करते हैं। कई बार पटरियों को पार करने में कुछ को अपनी जान तक गंवानी पड़ती है। रेलवे पुलिस के अनुसार वर्ष २०१८ में २५६ लोग दुर्घटना की बलि चढ़ गए। दिवा में ९२, मुंब्रा में ८७ और कलवा में ७७ नागरिकों ने पटरियां पार करते समय अपनी जान गंवाई है। इन दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने और नागरिकों की सुरक्षा के लिए रेलवे ने झोपड़पट्टियों के किनारे ‘दीवार’ बनाने का निर्णय लिया है। सूत्रों के अनुसार जल्द ही इसका काम शुरू कर दिया जाएगा।