" /> यस बैंक के खाताधारकों पर पीएमसी का डर!

यस बैंक के खाताधारकों पर पीएमसी का डर!

यस बैंक डूबने के कगार पर है, हालांकि सरकार पुरजोर कोशिश कर रही है कि इसे बचाया जाए। गुरुवार सुबह तक यस बैंक के खाताधारकों को कोई चिंता नही थी, सबकुछ ठीक चल रहा था लेकिन शाम होने पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) द्वारा एक आदेश जारी किया गया। इसमें बताया गया कि यस बैंक के खाताधारक एक महीने में सिर्फ ५० हजार रुपए ही निकाल सकते हैं। इसके बाद मानो उथल-पुथल का माहौल पैदा हो गया। लोग एटीएम की कतारों में खड़े हो गए, जिन्हें पैसे मिले उन्हें थोड़ी राहत मिली बाकियों को सुबह बैंक खुलने का इंतजार करना था।
पति काम पर, पत्नी बैंक की कतार में
बोरीवली के यस बैंक शाखा में एक महिला ने बताया कि वह सुबह करीब ९ बजे से बैंक में पैसे निकालने के लिए आई हैं। लेकिन शाम के ४ बजने के बावजूद पैसे नहीं मिले। उन्होंने बताया कि उनके पति काम से छुट्टी नहीं ले सकते इसलिए वह घर का सारा काम छोड़कर पैसे निकालने के लिए आई हुई हैं।
खाताधारक मायूस
एक खाताधारक ने बताया कि उनकी सैलरी अटकी पड़ी है, सभी जगहों पर एटीएम से वैâश खत्म हो गए हैं इसलिए उन्हें मजबूरन पैसे निकालने के लिए बैंक आना पड़ा। उन्होंने कहा कि कही यस बैंक के खाताधारकों की हालत ‘पीएमसी’ जैसी न हो जाए इसीलिए इस समस्या का समाधान सरकार को तुरंत करना चाहिए। एक अन्य खाताधारक ने बताया कि वे अपने पैसे जल्द से जल्द निकालना चाहते है, कहीं पैसे निकालने की राशि को और कम कर दिया गया तो दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि अभी तक बैंक के कर्मचारी ग्राहकों के साथ अच्छे से पेश आ रहे हैं।
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने यस बैंक के खाताधारकों को आश्वासन देते हुए कहा कि लोगों को डरने की जरूरत नहीं है, सभी के पैसे सुरक्षित हैं। बता दें कि यस बैंक को उबारने के लिए सरकार ने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) को यस बैंक की हिस्सेदारी खरीदने के लिए कहा है। हालात देखते हुए मुंबई पुलिस ने शहर के कई यस बैंक शाखाओं एवं एटीएम केंद्रों पर सुरक्षा बढ़ा दी है।