याद रखो, वातावरण खराब किया तो… तुम ओवैसी होगे मैं ठाकरे हूं!

शिवसेना ने कभी भी जाति-पांति देखकर राजनीति नहीं की इसलिए जाति-पांति की राजनीति करके शहर का वातावरण खराब मत करो। तुम ओवैसी होगे, मैं ठाकरे हूं! ऐसी कड़ी चेतावनी शिवसेना नेता-युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने दी।

संभाजीनगर में शिवसेना-भाजपा महायुति प्रत्याशी चंद्रकांत खैरे के प्रचारार्थ आदित्य ठाकरे की विशाल सभा आयोजित की गई थी, इस दौरान उन्होंने जाति-पांति की राजनीति करनेवालों पर जोरदार हंटर चलाया। शिवसेना ने कभी भी जाति-पांति की घिनौनी राजनीति नहीं की लेकिन वर्तमान में शहर में जाति-पांति के नाम पर जहर घोला जा रहा है। चंद्रकांत खैरे के विरोध में तीन विधायक खड़े हुए हैं। एमआईएम के जलील कभी आपका हाल जानने के लिए आए थे क्या? नसीब से वे विधानसभा पहुंचे, अब दिल्ली जाने का सपना देख रहे हैं। उनके नेता ओवैसी आए हुए हैं। उन्हें एक ही बात कहता हूं कि हम सभी धर्मों का आदर करते हैं, तुम ओवैसी होगे, मेरी रगों में बालासाहेब का खून है। वातावरण में जहर मत घोलो, शिवसेनाप्रमुख का इस शहर पर विशेष प्रेम था। यह ध्यान में रखो, ऐसी चेतावनी आदित्य ठाकरे के देते ही पूरा परिसर तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। उन्होंने कहा कि जब अतिक्रमण के नाम पर शहर में मंदिर तोड़े जा रहे थे, उस समय चंद्रकांत खैरे ने अपनी जान की परवाह न करते हुए मंदिर बचाने का काम किया। मंदिरों की रक्षा करना हमारा कर्तव्य ही है। आगे भी यह काम करते रहेंगे, सत्ता हो या न हो। शिवसेना हमेशा मजबूती के साथ हिंदुओं के साथ खड़ी रहेगी, ऐसा वचन भी उन्होंने दिया। केंद्र और राज्य में सत्ता पर होने के बाद भी, कांग्रेस ने कोई भी विकास कार्य नहीं किया। सत्ता में रहते हुए वे सिर्फ घोटाला ही किए।