युवती से गैंगरेप!, पंचायत ने पीड़िता पर ही लगाया जुर्माना

छत्तीसगढ़ के जशपुर नगर में गैंगरेप पीड़िता पर पंचायत द्वारा जुर्माना लगाने का मामला सामने आया है। पीड़िता ने पंचायत पर ५ हजार रुपए का जुर्माना लगाने का आरोप लगाया है। पीड़िता का आरोप है कि रेप की शिकायत पुलिस से करने पर उसके खिलाफ यह कदम उठाया गया। पंचायत ने मामले में आरोपित दो युवकों पर भी ५-५ हजार रुपए का जुर्माना लगाया है। पुलिस ने मामले में आरापी युवकों को गिरफ्तार कर लिया है।
गैंगरेप पीड़िता ने बताया कि गांव में खाप पंचायत की तर्ज पर सभा का आयोजन कर दबंगों ने उस पर पांच हजार रुपए का जुर्माना लगा दिया। इतना ही नहीं गांव की बदनामी की दुहाई देते हुए पुलिस में शिकायत न करने का दबाव भी उस पर बनाया गया। हालांकि उसने कोतवाली थाने में मामले की शिकायत कर दी है। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है। कोतवाली थाना में दर्ज शिकायत के मुताबिक २३ वर्षीय युवती का बीते २ नवंबर को घर में उसके भाई से किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। विवाद के बाद वह अपने घर से निकल कर पास की ही एक बस्ती में चली गई। इसी दौरान वहां रहनेवाले आरोपी संदीप और कृष्णा ने सीमेंट ढोने के बहाने उसके रिश्तेदार के घर से बुलाकर ले गए और उसके साथ सामूहिक दुष्‍कर्म किया। वारदात के बाद दोनों ने मामले की जानकारी किसी को न देने की धमकी देते हुए उसे छोड़ दिया। पीड़ि‍ता ने बताया कि १४ नवंबर को उसके गांव में इस मामले को लेकर एक बैठक हुई थी, जिसमें उसे आरोपियों के साथ ग्रामीणों के सामने खड़ा करके मामले की जानकारी ली गई। इसी दौरान उस पर जुर्माना लगाया गया। कोतवाली थाना प्रभारी लक्ष्मण ध्रुवे ने बताया कि युवती की शिकायत पर पुलिस ने दोनों ही आरोपियों को १६ नवंबर की शाम को ही गिरफ्तार कर लिया। दोनों के खिलाफ धारा ३७६ और ३४ के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि पंचायत द्वारा पीड़िता पर जुर्माना लगाने की लिखित शिकायत नहीं मिली है।
मानसिक रूप से बीमार महिला से बलात्कार
कोलकाता। कोलकाता के एक आश्रय गृह में रहनेवाली एक महिला का अपहरण और बलात्कार करने के आरोप में दक्षिणी बाहरी क्षेत्र में एक टैक्सी ड्राइवर को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आरोपी को शनिवार रात छापेमारी के दौरान दक्षिण २४ परगना जिले में नरेंद्रपुर से पकड़ा गया। अपनी शिकायत में ३६ वर्षीय महिला ने दावा किया कि सोमवार रात को वह टहलने के लिए बाहर निकली थी। तभी कुछ लोगों का समूह उसे जबरन अपनी कार में ले गया जहां उससे कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया गया। पीड़िता शहर के पंचासायर में मानसिक रूप से बीमार महिलाओं के लिए बने आश्रय गृह में रहती थी।
ये भी पढ़ें… बलात्कारी मौलाना धराया