" /> यूपी में होली पर नकली मिठाइयों का खतरनाक खेल! हजारों किलो मिठाइयां जब्त

यूपी में होली पर नकली मिठाइयों का खतरनाक खेल! हजारों किलो मिठाइयां जब्त

• बस्ती में १५ क्विंटल नकली मिठाइयां जब्त
• पूर्वी यूपी में मिलावटखोरों की पौबारह

रंगों के महापर्व के करीब होने की आहट पर बाजार में नकली मिठाइयां भी छाने लगी हैं । बाजार में मिठाइयों की बढ़ती मांग को देखते हुए पूर्वी यूपी में मिलावटखोर व नकली खाद्यपदार्थों के कारोबारी भी आम आदमी की जान और सेहत की कीमत पर अतिरिक्त मुनाफा कमाने के लिए सक्रिय हो उठे हैं। बस्ती, संतकबीरनगर, सिद्धार्थनगर, सुल्तानपुर, अमेठी, अंबेडकरनगर व प्रतापगढ़ आदि जिलों का हाल तो बेहद बदतर है। खोवे से निर्मित मिठाइयों में मिलावट का खतरनाक खेल शुरू हो गया है। कस्बों व ग्रामीण बाजारों की दुकानों पर नकली खोवे से मिठाइयां बनाई जा रही हैं। हालांकि बस्ती जिले में अफसरों ने १५ क्विंटल नकली मिठाई व खोवा पकड़ इन पर नकेल लगाने का प्रयास शुरू कर दिया है।
बस्ती में मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी सुशील कुमार मिश्र के नेतृत्व में अधिकारियों की टीम ने सबसे पहले हथियागढ़ स्थित कृष्णा फूड पर छापेमारी की कर १० क्विंटल मिलावटी पेड़ा बरामद किया। पेड़ा व बूंदी लड्डू के नमूने लेकर बोगस माल नष्ट कराए गए। रोडवेज स्थित खोवा मंडी में राजेश व वीके गुप्ता की दुकान से ५०-५० किलोग्राम नकली पनीर व खोवा व बरामद किया गया। सहायक खाद्य आयुक्त डा. शशि पांडेय ने बस्ती रेलवे स्टेशन के बाहर से ६ क्विंटल नकली खोवा पकड़ा। खोवा ट्रेन के जरिये बहराइच से लाया जा रहा था। ५० किग्रा खोवा दूषित मिला, जिसका नमूना लेकर नष्ट कराया गया। बेसन-मोतीचूर लड्डू के नमूनों को भी जांच के लिए खाद्य प्रयोगशाला भेजा गया। सुल्तानपुर में खाद्य सुरक्षा प्रशासन की टीम अभी जांच के लिए मुहूर्त का इंतजार कर रही हैं। हालांकि कानपुर की मंडियों से नकली खोवा चुपके चुपके स्थानीय व्यापारियों को भेजा जाने लगा है।