" /> ये आराम का मामला है! ८० विधायकों के लिए बुक हैं ४४ विला

ये आराम का मामला है! ८० विधायकों के लिए बुक हैं ४४ विला

जयपुर में कांग्रेस के ८० विधायक आराम फरमा रहे हैं। उनके लिए ४४ विला बुक किए गए हैं। भोपाल से ये सभी विधायक कल जयपुर पहुंचे। इसके पूर्व आलाकमान ने दिल्ली से ३ महासचिवों दीपक बावरिया, मुकुल वासनिक और हरीश रावत को भोपाल भेजा था। इन्हें कांग्रेस विधायकों से बातचीत करने की जिम्मेदारी दी गई थी। तीनों नेता आनेवाले कुछ दिनों तक भोपाल में ही डेरा जमाए रहनेवाले हैं।
उधर बंगलुरु में डीके शिवकुमार पार्टी के तथाकथित विधायकों के संपर्क में हैं। बताया जा रहा है कि वे विधायकों को मनाने के बाद विधायकों को लेकर पहले दिल्ली और फिर भोपाल ला सकते हैं। कमलनाथ के दिल्ली जाने की खबर है और वे बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिल सकते हैं।
मध्य प्रदेश में सरकार का संकट टालने के लिए कांग्रेस की कोशिशें शुरू हो गई हैं। भोपाल स्थित सीएम हाउस से ८० विधायकों को जयपुर भेज दिया गया है। इनमें कांग्रेस के अलावा ४ निर्दलीय विधायक भी शामिल हैं। इन लोगों के लिए जयपुर के ब्यूना विस्टा होटल के ४४ विला बुक किए गए हैं। बताया जा रहा है कि विधायकों को जयपुर में ३ से ५ दिन रोका जा सकता है। इस बीच, कांग्रेस नेता अरुण यादव ने कहा कि हम १७ मार्च को फ्लोर टेस्ट कराएंगे और इसमें जीत हासिल करेंगे। उधर बंगलुरु में कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि कांग्रेस को कोई बर्बाद नहीं कर सकता। नेता आते-जाते रहते हैं। मध्य प्रदेश के जो विधायक यहां हैं, वे अपनी सदस्यता नहीं छोड़ना चाहते। मुझे यकीन है कि वे समझेंगे और वापस लौटकर सरकार बचा लेंगे।
विधायकों के वापस लौट आने का यकीन
इसके पूर्व सीएम हाउस में हुई विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विधायकों से स्पष्ट कहा कि नंबर हमारे पास हैं और फ्लोर टेस्ट पर बहुमत साबित करेंगे। कमलनाथ का दावा है कि बंगलुरु गए १९ विधायक उनके संपर्क में हैं। पार्टी आलाकमान ने इन विधायकों को मनाने की जिम्मेदारी मंत्री गोविंद सिंह, सज्जन वर्मा और डीके शिवकुमार को सौंपी है। पार्टी सूत्रों की मानें तो जल्द ही १९ विधायक भोपाल लौट आएंगे।