ये ‘बियर्ड’ तो बैड है!, रहते हैं कुत्ते के शरीर में रहनेवाले जीवाणु

आजकल युवा वर्ग में चेहरे पर दाढ़ी रखने का पैâशन बढ़ता जा रहा है। टीम इंडिया के वैâप्टन समेत कई खिलाड़ियों ने चेहरे पर दाढ़ी रखी है, इसका असर युवाओं पर पड़ता ही है। पर आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि ये दाढ़ी स्वास्थ्य के लिए घातक होती है। डॉक्टरों के अनुसार इस दाढ़ी में कुत्तों के शरीर में पाए जानेवाले जीवाणु से भी १० गुना खतरनाक जीवाणु पाए जाते हैं इसलिए डॉक्टरों का कहना है कि बियर्ड यानी दाढ़ी बैड है।
इन दिनों युवाओं में फिल्मों और पैâशन का अलग ही ट्रेंड देखने को मिल रहा है। क्रिकेटरों के अलावा हाल फिलहाल में आई सैकड़ों फिल्मों में अभिनेताओं के चेहरे पर दाढ़ी का लुक देखने को मिला है। अपने चहेते अभिनेताओं के पैâशन को फॉलो करनेवाले युवाओं ने भी अभिनेताओं जैसी दाढ़ी रखनी शुरू कर दी है। हालांकि दाढ़ी रखनेवालों को यह नहीं पता कि दाढ़ी रखने से उन्हें त्वचा संबंधित गंभीर किस्म की बीमारियां हो सकती हैं। केईएम अस्पताल के त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ. उदय खोपकर ने बताया कि आमतौर पर मानव शरीर में मिक्रोशेल्स नाम के जीवाणु पाए ही जाते हैं। यदि दाढ़ी और बालवाले स्थान की उचित देखभाल नहीं की जाए तो इन जीवाणुओं की संख्या बढ़ सकती है। इनके बढ़ जाने से बालवाले स्थान पर खुजली होना, छोटी-छोटी फोड़ी होना और त्वचा का लाल हो जाना आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि यदि व्यक्ति दाढ़ी और बालवाले स्थान के बाल नियमित तौर पर काटता है तो इन जीवाणुओं के बढ़ने की कोई संभावना नहीं होती। इसलिए दाढ़ी रखने का जो पैâशन चल रहा है, उसे साफ-सुथरा रहना जरूरी है।