" /> राज्य में लघु उद्योगों को पैकेज की तैयारी अंतिम चरण में -सुभाष देसाई

राज्य में लघु उद्योगों को पैकेज की तैयारी अंतिम चरण में -सुभाष देसाई

केंद्र सरकार की तरह राज्य सरकार भी छोटे-मध्यम आकार के उद्यमों की मदद करने की योजना बना रही है। इसकी तैयारी अंतिम चरण में है। कैबिनेट की मंजूरी के बाद इसकी घोषणा की जाएगी। यह जानकारी उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने दी। उन्होंने कहा कि इससे लघु उद्योगों पर ब्याज के बोझ को कम करने में मदद मिलेगी। नवभारत टाइम्स की ओर से आयोजित सेमिनार में देसाई ने उक्त जानकारी दी। कोरोना के कारण
उद्योग चक्र में जो ठहराव आ गया था, वह धीरे-धीरे गति बढ़ा रहा है। वर्तमान में राज्य में 50,000 उद्योग शुरू किए गए हैं और 13 लाख श्रमिक काम पर वापस आ गए हैं। 43,000 कारखानों ने लाइसेंस के लिए आवेदन किया है, ऐसा देसाई ने बताया। रेड जोन में प्रतिबंधित क्षेत्र के बाहर व्यापार व दुकानें शुरू करने की मांग की जा रही है। 1 जून के बाद सरकार इस पर निर्णय ले सकती है, ऐसा देसाई ने कहा।
औद्योगिक श्रम ब्यूरो शुरू किया जानेवाला है,  इसके लिए एक पोर्टल बनाने के लिए काम शुरू हो गया है। इस पोर्टल के माध्यम से कुशल श्रमशक्ति को पंजीकृत किया जाएगा। इससे जहां जरूरत होगी, वहां मजदूरों की आपूर्ति करेंगे। इस बीच पिछले दो वर्षों में राज्य सरकार ने बालासाहेब ठाकरे रोजगार मेले के आयोजन किए थे। उद्योग विभाग के पास इसमें भाग लेनेवाले युवाओं का रिकॉर्ड है। इन युवाओं को रोजगार के अवसर भी दिए जाएंगे, ऐसा देसाई ने कहा।
एमआईडी के पास विदेशी निवेशकों के लिए सभी सुविधाओं के साथ 40,000 हेक्टेयर भूमि आरक्षित है। विदेशी कंपनियों को आकर्षित करने के लिए बातचीत अंतिम चरण में है। उन्होंने देश-विदेश की कंपनियों से अपनी लघु परियोजनाओं के विस्तार के लिए महाराष्ट्र को चुनने का आह्वान किया है।