" /> राणा ने लोन देने के बदले लिए थे ५ हजार करोड़!, ईडी का दावा

राणा ने लोन देने के बदले लिए थे ५ हजार करोड़!, ईडी का दावा

यस बैंक के पूर्व सीईओ राणा कपूर के हर दिन नए राज खुल रहे हैं। यस बैंक की हालत खस्ता बनी हुई है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दावा किया है कि राणा कपूर ने कई कंपनियों को करीब ३० हजार करोड़ रुपए लोन में दिए थे, जिसमें से २० हजार करोड़ रुपये नॉन परफार्मिंग एसेट्स (एनपीए) में तब्दील हो गए। लोन देने के बदले में राणा ने ५ हजार करोड़ रुपए रिश्वत के तौर पर लिया था। यह पैसा उन्होंने शेल कंपनियों में लगाए। शेल कंपनी का मतलब ऐसी कंपनी, जो सिर्फ कागजों पर होती हैं, ऐसी कंपनी में कोई कर्मचारी नहीं होते। इन पैसों से राणा ने ३० मिलियन यूरो लंदन एवं न्यूयॉर्क के एक होटल में निवेश किया। राजधानी दिल्ली में भी इनकी ५ संपत्तियां बरामद की गई हैं।
जांच एजेंसी के सूत्रों के अनुसार राणा उन कंपनियों को लोन देते थे, जो अन्य बैंकों से डिफॉल्टर घोषित हो चुकी थीं। इसके बदले मिले पैसे को वह शेल कंपनी में भेज देते थे। आरएबी एंटरप्राइज नामक शेल कंपनी की डायरेक्टर बिंदु कपूर हैं। इनकी बेटियों के नाम पर भी एक शेल कंपनी बनाई गई है। रोशनी कपूर, राधा कपूर और राखी कपूर ये तीनों अर्बन वेंचर नामक कंपनी की डाइरेक्टर हैं। जांच एजेंसी के मुताबिक यह भी एक शेल कंपनी है। यस बैंक घोटाले में राणा कपूर, उनकी पत्नी बिंदू कपूर और तीनों बेटियों को आरोपी बनाया गया है। ईडी के अनुरोध करने पर न्यायालय ने कपूर को १६ मार्च तक ईडी की हिरासत में रखने के लिए कहा है।