राम को फिर राम-राम

– सुप्रीम कोर्ट के अडिशनल रजिस्ट्रार ने जारी की नोटिस
– कल नई बेंच के समक्ष होनी थी सुनवाई
– नई बेंच के एक जज रहेंगे कल अनुपलब्ध

राम मंदिर के लिए तारीख पर तारीख का सिलसिला खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। कल २९ जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले पर नए बेंच के समक्ष सुनवाई होनी थी। यह सुनवाई फिर टल गई है। २ दिन पहले ही सीजेआई रंजन गोगोई ने अयोध्या मामले की सुनवाई के लिए ५ सदस्यीय नई संवैधानिक बेंच का गठन किया था।
सुप्रीम कोर्ट के अडिशनल रजिस्ट्रार लिस्टिंग की ओर से रविवार को जारी नोटिस के मुताबिक संवैधानिक बेंच में शामिल जस्टिस एस. ए. बोबडे कल २९ जनवरी को मौजूद नहीं रहेंगे, इस वजह से मामले की सुनवाई नहीं होगी। जस्टिस यू. यू. ललित के मामले की सुनवाई से खुद को अलग करने के बाद नए बेंच का गठन किया गया है। पहले से सुनवाई की तारीख २९ जनवरी तय की गई थी लेकिन अब यह तारीख वैंâसिल कर दी गई है। इसके बाद नई तारीख तय की जाएगी। बता दें कि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने अयोध्या मामले की सुनवाई के लिए शुक्रवार को नई संवैधानिक बेंच का गठन किया। नई बेंच में जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस अब्दुल नजीर को शामिल किया गया है। बेंच के तीन अन्य जजों में जस्टिस एस. ए. बोबडे और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ शामिल हैं। इससे पहले, अयोध्या मामले के लिए गठित पुरानी बेंच से जस्टिस यू. यू. ललित ने खुद को दूर कर लिया था, जिसके बाद सीजेआई ने नई बेंच का गठन किया।