" /> निर्माण क्षेत्र की मंदी पर ध्यान दीजिए! राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र

निर्माण क्षेत्र की मंदी पर ध्यान दीजिए! राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र

रियल एस्टेट सेक्टर यानी निर्माण क्षेत्र पूरी तरह से गिरावट की स्तिथि में है। लगभग तीन महीनों के लिए, बड़ी संख्या में श्रमिकों के पलायन व रुके हुए काम के कारण से ग्राहकों की मांग पूरी नहीं हो पा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि इन सब कारणों से आर्थिक मंदी आ रही है और इससे जीडीपी का हिस्सा प्रभावित हो रहा है। इसलिए इसके लिए जल्दी कोई उपाय कीजिए।
कोरोना वायरस संक्रमण के कारण देश भर में लॉकडाऊन के दरम्यान भारत के रिअल इस्टेट सेक्टर की परिस्थिति को लेकर शरद पवार ने मोदी को पत्र लिखकर तीव्र चिंता व्यक्त की है। कॉन्फेडरेशन ऑफ रियल एस्टेट डेवलपर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (क्रेडाई) के संबंध में राकांपा अध्यक्ष ने एक खुला पत्र लिखा है, जिसमें रियल एस्टेट क्षेत्र में तत्काल हस्तक्षेप और समर्थन के लिए प्रधानमंत्री से अनुरोध किया है। शरद पवार ने अपने लिखे पत्र में इस क्षेत्र में मदद करने के लिए वन टाइम पुनर्रचना, अतिरिक्त संस्थागत निधी, दंडात्मक ब्याज माफी ओर जीएसटी कार्यान्वयन के लिए किफायती धन मानदंड बनाने के लिए कुछ सिफारिशें की हैं। एक बार के पुनर्गठन, अतिरिक्त संस्थागत वित्त पोषण, दंड की छूट और नीतिगत आदि बातों को पवार ने पत्र के माध्यम से मोदी के ध्यान में लाया है। शरद पवार ने यह भी स्पष्ट किया कि यह देखना होगा कि अर्थव्यवस्था के एक बहुत महत्वपूर्ण क्षेत्र के पुनरुद्धार व उपाय योजना के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय हितों में क्या निर्णय लेते हैं और क्या कार्रवाई करते हैं!