रेप नगर बना भिवंडी, १० दिनों में ६ बलात्कार

२०१९ के आते ही भिवंडी रेप नगर में तब्दील हो गया है। पिछले १० दिनों में यहां बलात्कार की ६ घटनाएं घटी हैं। बहला-फुसलाकर, शादी का झांसा देकर या धमकाकर बलात्कार की १ वारदात में शामिल तीन आरोपी पकड़े गए हैं लेकिन अन्य मामलों के अपराधी फरार हैं। बलात्कार की बढ़ रही इन घटनाओं से महिलाओं में भय व्याप्त है।
भिवंडी के शांतिनगर निवासी व कॉस्मेटिक्स व्यवसायी जमील उर्फ भुल्लन ने इसी इलाके की एक १३ वर्ष की लड़की से पहचान बनाकर अपनी हवस का शिकार बनाया। इसी दौरान उसके दो दोस्तों ने भी लड़की का शारीरिक शोषण किया। लड़की की मां की शिकायत पर शांतिनगर पुलिस ने शुक्रवार को चार लोगों पर बलात्कार व पोक्सो का केस दर्ज कर शहानवाज खान (१९), रिजवान खान (२३), जमील (५८) को गिरफ्तार कर लिया है जबकि एक आरोपी फरार बताया जाता है। इसी तरह पीरानीपाड़ा में रहनेवाला अबू हाशिम नूर मोहम्मद शाह ने गायत्रीनगर पहाड़ी पर रहनेवाली २२ वर्षीय विवाहित महिला को शादी का झांसा देकर छह महीने तक उससे शारीरिक संबंध बनाए। महिला ने शांतिनगर पुलिस स्टेशन में अबू हाशिम नूर मोहम्मद शाह के विरुद्ध बलात्कार का मामला दर्ज कराया है। इसी तरह भिवंडी गोदाम पट्टा क्षेत्र की एक कंपनी में काम करनेवाली एक विवाहित महिला का उसके ही सहकर्मी द्वारा शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने का मामला सामने आया है। पीड़ित महिला ने कोनगांव पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया है। आरोपी अविनाश रामहरी माली (२७) फरार हो गया है, वहीं शांतिनगर के गुलजार नगर निवासी अजहर अंसारी (२८) ने इसी परिसर की एक २३ वर्षीय युवती को प्रेम-जाल में फांसा और एक दिन चलती जाइलो कार में काजी व दो गवाहों की मौजूदगी में उससे झूठा निकाह रचाया। फिर कई बार लॉज में ले जाकर उसके साथ संबंध बनाए। लड़की ने शांतिनगर पुलिस स्टेशन में बलात्कार का मामला दर्ज कराया। पद्मानागर इलाके में १३ साल की नाबालिग को बेहोश कर एक युवक ने उसके साथ बलात्कार किया। मामला तब उजागर हुआ जब लड़की दो माह की गर्भवती हो गई। इसी तरह एक ब्यूटीशियन महिला को एक व्यक्ति शादी का लालच देकर बार-बार अपनी हवस का शिकार बनाया। बढ़ती बलात्कार की घटनाओं से भिवंडी रेप नगर बन गया है।