रेलवे स्टेशन पर बनेगा जापानी गेस्ट हाउस!

रेलवे से सफर करनेवाले यात्रियों को इंडियन रेलवे केटरिंग टूरिज्म कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आईआरसीटीसी) बड़ी सहूलियत देने पर विचार कर रहा है, जिसके तहत यात्रियों के ठहरने के लिए बड़ी संख्या में ‘पॉड’ होटल बनाने की तैयारी की जा रही है। यह पॉड होटल जापानी गेस्ट हाउस जैसे होंगे, जापान में विशेषकर इसी तरह के छोटे कमरों में रहना लोग पसंद करते हैं। इसमें छोटे-छोटे वैâप्सूल नुमा कमरे तैयार किए जाएंगे। हालांकि यह सुविधा अभी पूरे देश में नहीं बल्कि पहले सिर्फ मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर होगी। इस योजना के लिए वेस्टर्न रेलवे प्रशासन को प्रस्ताव भेजा गया है, जिस पर हरी झंडी मिलते ही काम शुरू कर दिया जाएगा।

जानकारी के अनुसार यात्रियों को रुकने के लिए ये कमरे १२ घंटे के लिए दिए जाएंगे। आईआरसीटीसी ऐसे करीब ३० कमरे बनवाएगा। इसके साथ ही यहां ठहरनेवालों को लाउंज एरिया, वैâफेटेरिया, चेंंजिंग एरिया और वॉशरूम की सुविधा भी मिलेगी। तैयार कराए जानेवाले ये कमरे वातानुकूलित होंगे। इन कमरों में टीवी, वाई-फाई, पर्सनल लॉकर, स्लाइडिंग डोर्स के साथ स्मोक डिटेक्टर भी लगाया जाएगा। इस योजना के बारे में अधिकारियों का कहना है कि इन्हें रिटायरिंग रूम्स की तुलना में कम कीमत पर लोगों को दिया जाएगा। साथ ही बताया गया कि मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर प्रस्तावित यह योजना अगर सफल होती है तो इसे देश के अन्य स्टेशनों पर भी लागू की जाएगी। आईआरसीटीसी के प्रवक्ता पिनाकिन मोरावाला ने बताया कि इन कमरों को बनाने का मकसद लोगों को सहूलियत उपलब्ध कराना है। जिसके तहत कोई भी अल्ट्रा मॉडर्न और आराम का अहसास सस्ते में कर सके। उन्होंने बताया कि रेलवे की तरफ से स्वीकृति मिलने पर इस योजना पर काम शुरू कर दिया जाएगा। इसके साथ ही इन्हें बनाने की जगह भी तलाश कर ली गई है। इन कमरों को करीब ४ हजार स्क्वायर फीट जगह में बनवाया जाएगा। आईआरसीटीसी के ही एक अन्य अधिकारी ने बताया कि, ‘पॉड’ होटल को बनाने के लिए विचार विमर्श किया जा चुका है। वेस्टर्न रेलवे को इसका प्रस्ताव भी भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि मंजूरी मिलते ही इनके इंटीरियर और एक्सटीरियर डिजायन पर काम शुरू कर दिया जाएगा।