" /> रोजाना चलेगी 362 लोकल सेवाएं

रोजाना चलेगी 362 लोकल सेवाएं

सवा लाख कर्मचारी करेंगे सफर
प्रत्येक ट्रेन में 700 यात्री को अनुमति

मुंबई के उपनगरीय रेल मार्ग पर अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े कर्मचारियों के लिए रेलवे ने लोकल सेवाओं की शुरुआत 15 जून से कर दी है। उपनगरीय रेल मार्ग पर शुरुआत में रोजाना 362 लोकल सेवाएं संचालित की जा रही हैं। इन सेवाओं से रोजाना सवा लाख यात्री सफर करेंगे।
प्राप्त जानकारी के अनुसार पश्चिम रेलवे रोजाना 12 डिब्बों की कुल 162 लोकल सेवाओं का संचालन करेगी। इनमें 73 सेवाएं अप और 73 डाउन लाइन पर संचालित होंगी। ये सेवाएं चर्चगेट से विरार के बीच संचालित की जा रही हैं। 162 सेवाओं में से 16 सेवाएं विरार से डहाणू के बीच संचालित की जा रही हैं। ये सेवाएं 15 मिनट के अंतराल पर सुबह 5:30 बजे से रात 11:30 बजे के बीच संचालित की जा रही हैं। ये सारी लोकल सेवाएं चर्चगेट से बोरीवली के बीच तेज गति मार्ग पर संचालित की जाएंगी, जबकि बोरीवली के आगे धीमी गति मार्ग पर संचालित होंगी।

मध्य रेलवे चला रही है 200 सेवाएं
राज्य सरकार ने अत्यावश्यक सेवाओं के लिए जिन कर्मचारियों की पहचान की है। उनके लिए मध्य रेलवे भी मेन लाइन और हार्बर लाइन पर लोकल सेवाएं संचालित कर रही है। मध्य रेलवे कुल 200 सेवाएं संचालित कर रही है, जिनमें से 100 लोकल सेवाएं अप लाइन और 100 सेवाएं डाउन लाइन पर चलाई जा रही हैं। छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस स्टेशन से कसारा, कर्जत, कल्याण, ठाणे के बीच 130 सेवाएं संचालित की जा रही हैं, जिनमें 65 सेवाएं अप और 65 सेवाएं डाउन लाइन पर संचालित की जा रही हैं। इसी तरह हार्बर लाइन पर कुल 70 सेवाएं संचालित की जा रही हैं। इनमें 35 अप और 35 डाउन सेवाएं होंगी। मध्य रेलवे में संचालित हो रही लोकल सेवाएं भी मुख्य स्टेशनों पर रुकेंगी। रेलवे ने लोकल ट्रेनों के प्रस्थान और आने के समय को ड्यूटी समय के आधार पर तय किया है। ट्रेनें सीएसएमटी पर सुबह 7 बजे, 9 बजे, 10 बजे 3 बजे, 8 बजे और 11 बजे पहुंचेंगी, जबकि सीएसएमटी से ड्यूटी दमे के आधार पर सुबह 7 बजे, 9 बजे, 3 बजे,6 बजे, 8 बजे और 11 बजे चलाई जाएंगी।

सवा लाख यात्री करेंगे सफर
मुंबई के उपनगरीय रेल मार्ग पर अत्यावश्यक सेवाओं के लिए जिन 362 लोकल सेवाओं का संचालन किया जा रहा है। उन लोकल सेवाओं में करीब सवा लाख कर्मचारी रोजाना सफर करेंगे। रेलवे का अनुमान है कि सवा लाख में से 50 हजार कर्मचारी पश्चिम रेलवे में सफर करेंगे। मध्य रेलवे ने स्पष्ट रूप से कहा है कि ये लोकल सेवाएं केवल उन लोगों के लिए संचालित की जा रही हैं, जिन्हें राज्य सरकार ने अत्यावश्यक सेवाओं के लिए चिन्हित किया है।

700 यात्रियों को अनुमति
लोकल ट्रेनों में सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक ट्रेन में केवल 700 यात्रियों को सफर करने की अनुमति दी गई है, जबकि 12 डिब्बे की लोकल ट्रेन में 1,200 यात्रियों के बैठने की क्षमता होती है।

अप लोकल टाइम टेबल
फास्ट लोकल ट्रेन डाउन लाइन पर सुबह विरार से 5:30 बजे रवाना होगी। ट्रेन नालासोपारा से भाइंदर के बीच सभी स्टेशनों पर रुकेगी। नालासोपारा स्टेशन पर ट्रेन 5 बजकर 36 मिनट, वसई रोड 5:42 बजे, नायगांव 5:47 बजे, भाइंदर 5:53 बजे, मीरा रोड 5:58 बजे, दहिसर 6:02 बजे, बोरीवली 6:08 बजे पहुंचेगी। इसके बाद बोरीवली के आगे लोकल ट्रेन प्रमुख स्टेशनों पर रुकेगी। यह फास्ट लोकल अंधेरी 6 बजकर 22 मिनट, बांद्रा 6 बजकर 31 मिनट, दादर 6 बजकर 37 मिनट, मुंबई सेंट्रल 6 बजकर 44 मिनट, चर्चगेट 6 बजकर 55 मिनट पर पहुंचेगी। सभी लोकल सेवाएं 15 मिनट के अंतराल पर संचालित होंगी।

डाउन लोकल टाइम टेबल
डाउन लोकल ट्रेन चर्चगेट से सुबह 5:30 बजे विरार के लिए रवाना होगी। इसके बाद ट्रेन मुंबई सेंट्रल 5 बजकर 40 मिनट, दादर 5 बजकर 47 मिनट, बांद्रा 5 बजकर 53 मिनट, अंधेरी 6 बजकर 2 मिनट, बोरीवली 6 बजकर 16 मिनट पर पहुंचेगी। इसके बाद बोरीवली से ट्रेन धीमी होकर सभी स्टेशनों पर रुकेगी। बोरीवली के बाद दहिसर स्टेशन 6 बजकर 20 मिनट, मीरा रोड 6 बजकर 25 मिनट, भाइंदर 6 बजकर 30 मिनट, नायगांव 6 बजकर 35 मिनट, वसई रोड 6 बजकर 40 मिनट, नालासोपारा 6 बजकर 45 मिनट और विरार स्टेशन 6 बजकर 55 मिनट पर पहुंचेगी। इसके बाद सभी लोकल सेवाएं 15 मिनट के अंतराल पर संचालित होगी।

ये कर्मचारी कर सकेंगे सफर
अत्यावश्यक सेवाओं के लिए चलाई गई लोकल में केवल वहीं कर्मचारी सफर कर सकेंगे, जिन्हें मनपा, बेस्ट, मंत्रालय के अलावा सभी सरकारी और निजी अस्पताल के कर्मचारियों को आईडी कार्ड जारी किया गया हो।

रेलवे का बयान
मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया कि 15 जून से मध्य रेलवे कुछ चुनिंदा उपनगरीय लोकल सेवाएं संचालित कर रही है। ये लोकल सेवाएं मध्य रेलवे की मेन लाइन, हार्बर लाइन पर संचालित की जा रही है। अत्यावश्यक सेवाओं के लिए राज्य सरकार ने जिन लोगों को चिन्हित किया है। इन लोकल ट्रेनों में केवल वही लोग सफर कर सकते हैं। इसके अलावा कोई भी यात्री स्टेशन परिसर में आकर भीड़ न करें।