लहू की प्यासी हो गई है लोकल!, ३ दिन में ली ३१ बलि

मुंबई की लाइफलाइन यानी लोकल ट्रेनों में हादसे थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। लोकल में सफर के दौरान विभिन्न हादसों में औसतन १० लोग प्रतिदिन अपनी जान गंवाते हैं। बीते ३ दिनों में मुंबई की उपनगरीय ट्रेनों में सफर के दौरान ३१ यात्रियों की मौत हुई है, जबकि २८ यात्री घायल भी हुए हैं।
बता दें कि १ फरवरी को लोकल ट्रेनों में सफर के दौरान २६ यात्री हादसे का शिकार हुए। इनमें ११ यात्रियों की मौत हो गई। मरनेवालों में १० पुरुष व एक महिला शामिल है। इसी तरह २ फरवरी को १५ यात्री हादसाग्रस्त हुए, जिनमें ७ यात्री अकालकाल का ग्रास बन गए। मरनेवालों में ५ पुरुष व २ महिला शामिल थीं, वहीं ३ फरवरी को हादसे का शिकार हुए १८ यात्रियों में से १३ की मौत हो गई। मरनेवालों में ९ पुरुष व ४ महिलाएं हैं। गौरतलब हो कि २ घायलों व १५ मृतकों की अब तक शिनाख्त नहीं हो पाई है। हादसों के मामले में बीते ३ दिनों में ठाणे में सर्वाधिक ६, उसके बाद कल्याण- ५, डोंबीवली- ४, वाशी-मुंबई सेंट्रल ३-३ और वडाला, सीएसएमटी, दादर आदि रेल पुलिस थानों में २-२ मामले दर्ज हुए हैं।