लाजवाब है लवासा

हिल स्टेशन आमतौर पर पर्यटकों को गर्मी में विशेष रूप से अपनी ओर आकर्षित करते हैं लेकिन पुणे के पास बसा लवासा एक ऐसा हिल स्टेशन है, जो पर्यटकों को हमेशा अपनी ओर आकर्षित करता है। यदि आप रोजमर्रा की भागदौड़ से थक गए होंगे तो मॉनसून के सुहाने मौसम में एक शानदार वीकेंड बिताने के लिए लवासा घूमने की योजना बना सकते हैं। यहां की पहाड़ियों एवं हरी-भरी वादियों में एडवेंचर के साथ-साथ सुकून का अनुभव ले सकते हैं। आपके शहर के करीब स्थित लवासा में आप कम-से-कम बजट और समय में अपने वीकेंड को यादगार बना सकते हैं।

विदेशों में खूबसूरत लोकेशंस पर बनाई गई फिल्में देखकर आपका मन भी उन लोकेशंस पर घूमने का करता होगा लेकिन हमारी जेब हमें इसकी इजाजत नहीं देती है। ऐसे लोगों के लिए हिंदुस्थान और मुंबई के आसपास भी कई जगहें मौजूद हैं, जहां जाकर आपको ऐसा लगेगा, मानो आप विदेश में आ गए हों। लवासा ऐसा ही एक प्लांड हिल स्टेशन है, जिसे वेस्टर्न घाट्स पर वरसगांव बांध के पास बनाया गया है। यहां के खूबसूरत हरे-भरे पहाड़ और झील के नजारे निश्चय ही आपका मन मोह लेंगे। ये शहर इटली के पोर्टोफिनो से बहुत मिलता-जुलता है। इसकी कई सड़कों के नाम भी इटली के शहर पोर्टोफिनो से प्रेरित हैं। दास्‍वे गांव को लवासा नाम दिया गया। २००० फीट की ऊंचाई पर स्थित होने के कारण लवासा का मौसम बेहद सुहावना रहता है। मॉनसून और सर्दी के मौसम में लवासा घूमना सबसे ज्‍यादा सही रहता है क्‍योंकि इस दौरान यहां का मौसम ठंडा और हराभरा होने के कारण सुंदर लगता है। मॉनसून जुलाई से सितंबर और सर्दी अक्‍टूबर से मार्च तक रहती है। इस शहर की खूबसूरती से आपको प्‍यार हो जाएगा और आप कहेंगे लवासा जैसा कोई और शहर नहीं है।
इसलिए है खास
लवासा शहर में पर्यटकों के लिए काफी कुछ है। यहां आप वॉटर स्‍पोर्ट्स जैसे जैट स्‍कार्इंग, कायाकिंग कर सकते हैं या फिर लवासा झील पर आराम भी फरमा सकते हैं। खूबसूरत लवासा में वैंâपिंग का एक नया ही अनुभव होता है। जंगलों में वैंâपिंग और ट्रैकिंग की जगहों से लवासा बिलकुल अलग है। यहां आप रैपेलिंग, राफ्ट बिल्डिंग, आर्चरी और योग भी कर सकते हैं। इसके अलावा यहां ग्रुप एक्टिविटीज, जैसे मैड एड्स, कोलाज मेकिंग आदि भी कर सकते हैं।
आस-पास के दर्शनीय इलाके
सिंहगढ़ – पुणे से ३० किमी दूर स्थित सिंहगढ़ परिवार और दोस्तों के साथ घूमने के लिए एक अच्छा विकल्प है। मराठा युग में बना, यह किला आपको हरी पहाड़ियों पर ट्रैक और निरीक्षण करने का मौका देता है।
कामशेत – यदि आप पैराग्लिडिंग करने का शौक रखते हैं तो पुणे से ४८ किमी दूर स्थित कामशेत में अक्टूबर-मई के बीच कभी भी आ सकते हैं।
पवना झील – पुणे से ५२ किमी दूर स्थित पवना झील प्रकृति प्रेमियों और शांति तलाशनेवालों के लिए सबसे बेहतर जगह है। रात भर के लिए किसी जगह पर जाना चाहते हों तो अक्टूबर-मई के बीच इससे अच्छा विकल्प शायद ही होगा। तारों की रौशनी के नीचे वैंâपिंग करते समय आप अपना खाना भी पका सकते हैं, जो एक यादगार अनुभव होगा।
बेडसे गुफाएं – ५६ किमी दूर स्थित बेडसे गुफाएं, अजंता और एलोरा गुफाओं जितनी प्रसिद्ध भले ही न हों लेकिन उनसे कम दिलचस्प भी नहीं हैं। इन पहली शताब्दी ईसा पूर्व की रॉक-कट गुफाओं को उगते सूरज की रोशनी में नहाता देखने के लिए सुबह सूरज उगने से पहले यहां आएं।
लोहागढ़- १७ वीं शताब्दी से भी पुराना, लोहागढ़ किला यहां ट्रेकिंग के लिए एक जानीमानी जगह है। ऊपर चढ़ते-चढ़ते हरियाली और खूबसूरती भी बढ़ती जाती है। यह पुणे से ६४ किमी की दूरी पर स्थित है, यहां जून से मार्च तक जाना श्रेष्ठ होता है।
लोनावाला- पुणे से ६६ किमी दूरे स्थित लोनावाला पश्चिमी घाटों में स्थित सबसे ज्यादा लोकप्रिय वीकेंड स्पॉट है। यहां की हरी-भरी वादियां, झरने, सुंदर तालाब और खूबसूरती आपको मंत्रमुग्ध कर देंगी। अक्टूबर-मई के बीच यहां यादगार छुट्टियां बिता सकते हैं।
अंधारबन- पुणे के पास स्थित आकर्षक पर्यटन स्थलों में अंधारबन एक प्रमुख जगह है, ६७ किमी दूर स्थित इस क्षेत्र में आप ट्रैक पर जा सकते हैं। लगभग १३ किमी के रास्ते पर चलना काफी आसान है, इसे पूरा होने में ४-५ घंटे लगते हैं। दिन के दौरान शानदार दृश्यों के लिए या रात के रोमांचक नजारों के लिए यहां जरूर आएं।
कुणेगांव- पुणे और मुंबई में रहनेवाले लोग कुनेगांव में अद्भुत रोमांच का मजा ले सकते हैं। डेला एडवेंचर पार्क में आपके लिए ७० से अधिक मजेदार एक्टिविटीज हैं, जिनमें एटीवी सवारी, ऑफ-रोड बाइकिंग, जोरबिंग, जायंट स्विंग, शूटिंग, तीरंदाजी, क्रॉसबो, रॉकर इजेक्टर सवारी और पेंटबॉलिंग शामिल हैं। यहां पुणे से ६८ किमी की दूरी पर स्थित है।
खंडाला- लोनावाला के पास स्थित, खंडाला, मुंबई से करीब स्थित एक और मनमोहक हिल स्टेशन है, जहां आप शानदार वीकेंड के लिए जा सकते हैं। सुंदर नजारों का ज्यादा मजा लेने के लिए आप ड्यूक्स नोज, भूषि बांध पर जा सकते हैं। खंडाला हर मौसम में मुंबई व आसपास के लोगों का पसंदीदा पर्यटन स्थल है।
ऐसे पहुंचे लवासा
लवासा मुंबई से २०० और पुणे से ६५ किमी दूरी पर स्थित है। मुंबई या पुणे के रास्ते आप वायु, रेल या सड़क मार्ग से यहां आसानी से पहुंच सकते हैं। वैसे रेलवे मार्ग के लिए यहां का नजदीकी रेलवे स्टेशन पुणे ही है, जहां से आप लाजवाब लवासा में पर्यटन का लुत्फ उठा सकते हैं।