" /> लॉकडाउन का कड़ाई से हो पालन : वरिष्ठ नागरिकों पर विशेष ध्यान देने का सुझाव

लॉकडाउन का कड़ाई से हो पालन : वरिष्ठ नागरिकों पर विशेष ध्यान देने का सुझाव

कोरोना के संदर्भ तैयारियों का केंद्रीय दस्ते ने लिया जायजा
कोरोना बीमारी को रोकने के लिए प्रतिबंधित क्षेत्रों में लॉक डाउन का कड़ाई से पालन करने का आदेश देते हुए वरिष्ठ नागरिकों का विशेष ख्याल रखने का सुझाव केंद्रीय दस्ते ने दिया। शनिवार को केंद्रीय दस्ते ने जिले के छह महानगर पालिकाओं और ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा कर कोरोना महामारी के रोकथाम और उपाय योजनाओं का जायजा लिया। दस्ते के प्रमुख सचिव मनोज जोशी ने इस दौरान लॉक डाउन को कड़ाई से अमल में लाने के साथ ही तत्काल सर्वेक्षण और वैद्यकीय जांच करने का आदेश देते हुए संस्थात्मक क्वारंटाइन करने पर जोर देने का निर्देश दिया।
वैश्विक महामारी कोरोना के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर जिले की समीक्षा के लिए केंद्र सरकार ने दस्ते का गठन किया है। उक्त दस्ता शनिवार को ठाणे जिले के ठाणे मनपा की सीमा में स्थित कौशल्य हॉस्पिटल, जिला सिविल अस्पताल, होराइजन हॉस्पिटल जैसे तीन कोविड-19 अस्पतालों का दौरा कर जायजा लिया। इसके साथ ही तेजी से कोरोना की चपेट में आनेवाले परिसर पारसिक नगर कलवा, अमृतनगर, मुंब्रा में जाकर उपाय योजनाओं की समीक्षा की।
इसके बाद केंद्रीय मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव मनोज जोशी की अध्यक्षता में ठाणे  मनपा के बल्लाल सभागृह में एक बैठक भी हुई, जिसमें कोविड-19 की बढ़ती संख्या, संक्रमण बीमारियों के लिए प्रतिबंधात्मक उपाययोजना व इससे संबधित भविष्य में किए जानेवाले नियोजन पर भी चर्चा हुई। इस बैठक में जोशी ने सभी विभाग को समन्वय के साथ काम करने की सलाह भी दी और छहों महानगर पालिकाओं और ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक संदिग्धों की जांच करने का भी निर्देश दिया। साथ ही प्रत्येक फीवर क्लीनिक के जगह पर उचित रूप से सतर्कता बरतने और संस्थात्मक क्वारंटाइन बढ़ाने के साथ ही टेस्ट करने और सार्वजनिक शौचालयों की सफाई और विशेषत: झोपडपट्टी  अथवा अधिक भीड़भाड़वाले क्षेत्रों पर विशेष ध्यान केंद्रित करने का आदेश दिया।
मनपा आयुक्त ने दी प्रजेंटेशन
इस बैठक में मनपा आयुक्त विजय सिंघल ने ठाणे महानगरपालिका द्वारा कोविड की रोकथाम व तैयारियों के संदर्भ में एक प्रजेंटेशन भी दिया, जिसमें आयुक्त ने शहर की जनसंख्या, भौगोलिक परिस्थिति और कोविड के लिए किए जा रहे सावधानी और सतर्कता के साथ उपाय योजनाओं की जानकारी दी। आयुक्त सिंघल ने कोरोना के पॉजिटिव और संदिग्ध मरीजों को लेकर अस्पतालों की तैयारियों और सर्वेक्षण के साथ किए जा रहे टेस्ट की भी जानकारी आंकड़ों के साथ उपलब्ध कराई, जबकि कोकण विभागीय आयुक्त शिवाजीराव दौंड ने बताया कि ठाणे जिले में आरोग्य, पुलिस, राजस्व आदि विभागों में समन्वय के साथ काम जारी है और सभी महानगरपालिकाओं तथा अस्पतालों में बड़े पैमाने पर सुविधा उपलब्ध है।
कानून व सुरक्षा सक्षम- पुलिस आयुक्त
इस दौरे के दौरान पुलिस आयुक्त विवेक फणसलकर ने शहर की कानून व सुव्यवस्था की दृष्टि से की जा रही उपाय योजना, तैयारी और पुलिस द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी और बताया कि लोगों में जागरूकता लाने का काम पुलिस प्रशासन द्वारा किया जा रहा है।
कम्युनिटी किचन द्वारा दिया जा रहा है भोजन-जिलाधिकारी
इस मौके पर जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर ने जिले में शुरू कम्युनिटी किचन व फंसे हुए मजदूरों, दिहाड़ियों और गरीबों को उपलब्ध कराए गए कामगार निवास और भोजन व्यवस्था की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन की तरफ से विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के साथ समन्वय साधकर तैयार भोजन दोनों टाइम उपलब्ध कराया जा रहा है। साथ ही जिला प्रशासन की तरफ से जरूरतमंदों को अनाज भी समय पर दिया जा रहा है। साथ ही सस्ते दर पर अनाज की उपलब्धता के लिए नियोजन किया जा रहा है और कहीं भी सामानों की कमी न हो, इसके लिए जिला प्रशासन सतर्क है। इस दौरान नई मुंबई, कल्याण-डोंबिवली, उल्हासनगर, भिवंडी और मीरा-भाइंदर मनपा के आयुक्त भी मौजूद थे।