" /> लॉकडाउन में जरूरतमंदों का सहारा : भरता है पेट, करता है स्वास्थ्य की जांच

लॉकडाउन में जरूरतमंदों का सहारा : भरता है पेट, करता है स्वास्थ्य की जांच

लॉकडाउन ने गरीबों को लाचार बना दिया। रोज कमाने और खानेवाले बेरोजगार हो गए। ठेले पर फल बेचनेवाले, पानी पूरी बेचनेवाले एवं अन्य धंधा लगानेवाले लोग बेकार हो गए। नतीजतन उनको एक वक्त की रोटी तक मिलना मुश्किल हो गया। ऐसे में मुंबई सबर्बन चेसबॉक्सिंग के अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा ने लोगों के घरों तक खाना पहुंचाने का काम शुरू किया। लॉकडाउन शुरू होने के कुछ दिन बाद से ही वे गरीबों की हर संभव मदद कर रहे हैं।
‘दोपहर का सामना’ से बातचीत के दौरान जितेंद्र शर्मा ने बताया कि चेसबॉक्सिंग असोसिएशन ऑफ मुंबई सबर्बन की तरफ से जरूरतमंदों को पका हुआ खाना, बिस्किट, पानी एवं कच्चे राशन लगातार बांटे जा रहे हैं। कांदिवली, बोरीवली एवं दहिसर में उनकी टीम प्रतिदिन भोजन बांटने का काम कर रही है। उन्होंने बताया कि इस नेक कार्य में कृष्णा सोनी, राजू यादव, जया सिंह का सहयोग जारी है।
पुलिसवालों की करते हैं स्क्रीनिंग
राशन बांटने के अलावा वे बृहन्मुम्बई महानगर पालिका के साथ मिलकर विभिन्न जगहों पर मेडिकल कैंप भी आयोजित कर रहे हैं, जहां लोगों की स्क्रीनिंग की जा रही है। इसके साथ-साथ कांदिवली (पूर्व) स्थित समता नगर पुलिस स्टेशन में पुलिसकर्मियों की थर्मल स्क्रीनिंग भी करते हैं। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन में पुलिस अपनी जान जोखिम में डालकर हमारी रक्षा कर रही है, ऐसे में मनपा के साथ मिलकर पुलिसकर्मियों की जांच करना, उनके लिए गर्व की बात है। जितेंद्र सुनिश्चित करते हैं कि उनके इलाके में कोई भी जरूरतमंद भूखे पेट न सोए।