" /> लॉक डाउन में ऑनलाइन पढ़ाई : बढ़ी 72 % संख्या

लॉक डाउन में ऑनलाइन पढ़ाई : बढ़ी 72 % संख्या

5 लाख लोगों ने करवाया रजिस्ट्रेशन
कोरोना वायरस के कारण देशभर में लॉक डाउन है। लॉक डाउन होने से स्कूल-कॉलेज सहित प्राइवेट व सरकारी क्लासेस भी फिलहाल बंद हैं। ऐसे में छात्र लॉक डाउन में ऑनलाईन पढ़ाई पर अधिक ध्यान दे रहे हैं। जानकारी के मुताबिक एडटेक क्षेत्र की प्रमुख कंपनी और हिंदुस्थान में उच्च शिक्षा की सबसे बड़ी प्रदाता ‘अपग्रेड’ ने दावा किया है कि लॉक डाउन के दौरान ऑनलाईन पढ़ाई करनेवालों की संख्या में 72 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है। साथ ही इस दौरान 5 लाख लोगों ने रेजिस्ट्रेशन भी करवाया है।

ऑनलाइन पढ़ाई लर्निंग की बढ़ती डिमांड को देखते हुए ‘अपग्रेड’ ने अपने सभी 40 कोर्स को तिमाही के बजाए हर महीने शुरू करने का निर्णय लिया है। यह निर्णय कामकाजी प्रोफेशनल्स की बढ़ती संख्या को देखते हुए कंपनी ने लिया है। इस प्रकार कंपनी ने अपनी कोर्स क्षमता को बढ़ाकर दोगुना कर दिया है और अब हर क्लास में 1000 लर्नर्स हो गए हैं।
अपग्रेड के सह-संस्‍थापक व कार्यकारी चेयरमैन, रोनी स्क्रूवाला बताया कि ‘ऑनलाइन क्लास जितना अधिक बड़ा होगा, पीयर-टू-पीयर लर्निंग उतना ही अधिक सक्रिय होगी और ऑफलाइन लर्निंग के मामले में यह स्थिति बिल्‍कुल विपरीत हो जाती है।’ स्क्रूवाला ने आगे बताया, ‘पिछले एक महीने में हमारे ऑनलाइन प्रोग्रॅम्स के लर्नर्स की संख्या 5,00,000 हो गई, जो अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है। हालांकि, अभी भी हम 100 मिलियन कामकाजी प्रोफेशनल्स व ग्रेजुएट्स से अधिक बाजार की मांग पूरी करने के शुरूआती चरण में ही हैं।’ इस तिमाही, अनेक कॉलेज व विश्वविद्यालयों द्वारा उनके लाइव लर्निंग प्लॅटफॉर्म को निशुल्क शुरू किये जाने के साथ, अपग्रेड का सालांना राजस्व 500 करोड़ रुपए को पार कर जाएगा, चूंकि उक्त कॉलेज व विश्वविद्यालयों द्वारा कोविड-19 के दौरान उनके छात्रों की आवश्यकताएं पूरी करने के लिए कक्षाएं ऑनलाइन शुरू की जाएंगी। कंपनी ने इस अवधि के दौरान शुरू किए गए 300 घंटों के नि:शुल्क पाठ्यक्रमों के लिए अलग से 10,000 पंजीकरण भी दर्ज कराएं।