लोअर परेल से वर्ली सिर्फ १० मिनट में

चुनाभट्टी बीकेसी कनेक्टर शुरू होने के बाद मनपा ने लोअर परेल से वर्ली तक की ट्रैफिक समस्या को सुलझाने की दिशा में भी कदम आगे बढ़ाया। दशक पुरानी इस समस्या को बीते शुक्रवार को मनपा ने सुलझाया है। लोअर परेल रेलवे स्टेशन से वर्ली जंक्शन के बीच होनेवाली ट्रैफिक का प्रमुख कारण बने करीब २५ छोटी-बड़ी दुकानों को मनपा ने ध्वस्त कर दिया है। इन निर्माणों के ध्वस्त होने से सड़क चौड़ी हो गई है। इसके चलते डेढ़ किलो मीटर के इस सफर को अब वाहनचालकों को तय करने में सिर्फ १० मिनट लगेंगे। पहले यही सफर व्यस्ततम समय में तय करने के लिए सवा घंटा लगता था।
हजारों वर्ग फुट की जगह हुई खुली
वर्ली के पांडुरंग बुधकर मार्ग और लोअर परेल के शंकर राव नरम पथ पर २५ से अधिक दुकानें हटाए जाने पर करीब चार हजार वर्ग फुट जगह खुली हो गई है। ये दोनों सड़कें ८० फुट और ६० फुट की थी। इन दोनों सड़कों पर बने ये निर्माण कार्य दशक से ट्रैफिक का टेंशन दे रहे थे।
प्रभादेवी रोड का जाम भी होगा कम
जी/दक्षिण वॉर्ड के सहायक मनपा आयुक्त शरद उघड़े ने बताया कि वर्ली और प्रभादेवी रोड के बीच पीबी मार्ग मुख्य कनेक्टिविटी पॉइंट था। पीबी मार्ग पर बनी दुकानें हटने से प्रभादेवी रोड पर होनेवाला ट्रैफिक जाम भी कम होगा। पीबी मार्ग और शंकर राव नरम पथ का चौड़ीकरण किया जाएगा। इसके चलते लोअर परेल के गणपत राव कदम मार्ग की ओर होनेवाले ट्रैफिक से वाहनचालकों को राहत मिलेगी।
पार्किंग की समस्या भी सुलझेगी
लोअर परेल से वर्ली के बीच की सिर्फ ट्रैफिक समस्या ही नहीं बल्कि इससे पार्विंâग की भी समस्या सुलझी है। कमला मिल्स और सेंचुरी मिल्स कंपाउंड में आनेवाले वाहनचालकों को शाम के समय पार्विंâग की सुविधा मिलेगी।