" /> ‘वंदे भारत’ अभियान के तहत उड़े ४७ विमान : विदेशों में फंसे ६,७९५ नागरिक मुंबई पहुंचे

‘वंदे भारत’ अभियान के तहत उड़े ४७ विमान : विदेशों में फंसे ६,७९५ नागरिक मुंबई पहुंचे

१ जुलाई तक और ४८ फ्लाइट्स का नियोजन

‘वंदे भारत’ अभियान के अंतर्गत फेज-१ और २ के अंतर्गत ४७ फ्लाइट्स के द्वारा कुल ६,७९५ नागरिक विविध देशों से महाराष्ट्र में वापस आए हैं। इन सभी नागरिकों को मुंबई हवाईअड्डे पर उतारा जा रहा है और सभी यात्रियों को बहूत ही सूक्ष्मता से कॉरंटाइन किया जा रहा है।
अब तक विदेशों से आए नागरिकों में २,१०७ यात्री मुंबई के हैं। शेष महाराष्ट्र के यात्रियों की संख्या २,४८३ है और अन्य राज्य के यात्रियों की संख्या २,२०५ है। अब तक ब्रिटेन, सिंगापुर, फिलीपींस, अमेरिका, बांग्लादेश, मलेशिया, कुवैत, इथियोपिया, अफगानिस्तान, ओमान, दक्षिण अफ्रीका, इंडोनेशिया, नीदरलैंड, जापान, श्रीलंका, म्यांमार, तंजानिया, स्पेन, कतर, आइलैंड,  हांगकांग, कजाकिस्तान, मॉरिशस, ब्राजील, थाईलैंड, केनिया, मियामी ऐसे विविध देशों से यात्री मुंबई में दाखिल हुए हैं। इसके अलावा १ जुलाई, २०२० तक ४८ फ्लाइट्स के द्वारा विदेशों में फंसे नागरिक भी मुंबई में दाखिल होंगे।
बृहन्मुंबई के यात्रियों के लिए इंस्टीट्यूशनल कॉरंटाइन की सुविधा विविध हॉटेलों में की गई है, वहीं अन्य जिले के और राज्य के यात्रियों को उनके जिला मुख्यालय में भेजने की व्यवस्था मुंबई उपनगर जिलाधिकारी कार्यालय के जरिए की जा रही है। वहां जाने पर उन्हें संबंधित जिलाधिकारी एवं महापालिका आयुक्त की ओर से भी कॉरंटाइन किया जा रहा है। इसके अलावा अन्य राज्यों के यात्रियों की वाहतूक पासेस संबंधित राज्य की ओर से प्राप्त होने तक उस राज्य के यात्रियों को मुंबई के कॉरंटाइन सेंटर में रखा जा रहा है। इन यात्रियों को वाहतूक पास संबंधित राज्य की ओर से प्राप्त होते ही, ऐसे यात्रियों को उनके राज्यों में भेजा जाएगा। महाराष्ट्र सरकार केंद्रीय नागरी उड्डयन मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और केंद्रीय गृह मंत्रालय के समन्वय से वंदेभारत अभियान सफलतापूर्वक चला रही है।