वर्ष २०२२ तक मीरा-भाइंदर में दौड़ेगी मेट्रो, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दी नववर्ष की सौगात

मेट्रो के साथ बनेंगी ३ उन्नत सड़कें

अतिरिक्त रु.२१७ करोड़ के खर्च को मंजूरी

नए वर्ष में मीरा-भाइंदर शहर के लिए मेट्रो का कार्य तेजी से शुरू किया गया है। वर्ष २०२२ तक शहर में मेट्रो दौड़ने लगेगी। मेट्रो के साथ ही ३ बड़ी उन्नत सड़क भी बनाई जाएंगी। इसके लिए शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने एमएमआरडीए से अतिरिक्त २१७ करोड़ रुपए की मंजूरी भी कराई है। उन्नत सड़कें बन जाने से मीरा-भाइंदर शहर में यातायात सुगम हो जाएगा और ट्रैफिक जाम जैसी समस्या से हमेशा के लिए मुक्ति मिल जाएगी। सोमवार को एमएमआरडीए के अधिकारियों के साथ सरनाईक ने मेट्रो व ‘एलिवेटेड सड़कों’ (उन्नत मार्ग) के कार्यों का जायजा लिया और आगामी दो वर्षों में इस कार्य को पूर्ण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया। यह मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा मीरा-भाइंदरकरों को नववर्ष की सौगात दी गई है। यह जानकारी सरनाईक ने दी।

नागपुर मेट्रो की तरह यहां भी मेट्रो के नीचे वाहनों की आवाजाही के लिए ३ उन्नत मार्ग बनाए जाएंगे। दोनों का निर्माण कार्य एक साथ ही किया जाएगा। सरनाईक के सतत १० वर्षों के प्रयास के बाद पिछले वर्ष मीरा-भाइंदर में मेट्रो के कार्य की शुरुआत हुई थी। काशीमीरा के छत्रपति शिवाजी महाराज पुतला से भाइंदर गोल्डन नेस्ट तक ३ उन्नत मार्ग बनाए जाएंगे, जिसे ३ जगह कनेक्ट किया जाएगा। वर्तमान में मुंबई-अमदाबाद मार्ग पर काशीमीरा में बने फ्लाइओवर ब्रिज से इस सड़क को जोड़ा जाएगा, जिससे मुंबई से मीरा-भाइंदर के लिए आनेवाली गाड़ियां सीधे शहर में प्रवेश कर जाएंगी। मीरा-भाइंदर मेट्रो के लिए बनाए जानेवाले पिलरों (खंबों) को डबलडेकर के रूप में बनाया जाएगा।

शिवसेनापक्षप्रमुख व राज्य के मुख्यमंत्री उद्धवसाहेब ठाकरे के मार्गदर्शन में इसके लिए यह अतिरिक्त निधि मंजूर की गई है। इसके लिए सरनाईक ने आभार व्यक्त किया है। इस कार्य का जायजा लेने के अवसर पर विकास नाईक (अधीक्षक अभियंता एम.एम.आर.डी.ए.), योजना पाटील (कार्यकारी अभियंता), बालाजी खतगावकर (मीरा-भाइंदर आयुक्त), शिवाजी बारकुंड (शहर अभियंता), नलिन गुप्ता (जे कुमार कंपनी का मालिक), प्रभाकर म्हात्रे (जिलाप्रमुख), स्नेहल सावंत (जिलासंगठक), विक्रम प्रताप सिंह, विरोधीपक्ष नेता प्रवीण पाटील, गटनेता हरिश्चंद्र आमगावकर, नगरसेवक राजू भोईर, प्रशांत पालांडे तथा श्रेया सालवी आदि उपस्थित थे।