" /> वाराणसी डीजल रेल इंजन कारखाना के आईटी सेंटर में लगी आग, लाखाें की हुई क्षति

वाराणसी डीजल रेल इंजन कारखाना के आईटी सेंटर में लगी आग, लाखाें की हुई क्षति

वाराणसी स्थित डीजल रेल इंजन कारखाना (DLW) में बुधवार सुबह भीषण आग लग गई। आग की सूचना पर डीरेका दमकल की कई गाड़ियां घटनास्थल पर पहुंच गईं और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। इससे लाखों के नुकसान की आशंका जतायी जा रही है।
डीरेका के प्रशासनिक भवन के टेक्‍नॉलॉजी सेंटर में बुधवार सुबह करीब सवा छह बजे आग लग गयी। सूचना मिलते ही रेल अफसरों में हड़कंप मच गया। इस दौरान मौके पर सेफ्टी कार्यालय के कर्मचारी, अग्निशमन की तीन गाड़ियां, गेल की फायर सर्विस की गाड़ी, आरपीएफ और पुलिस पहुंच गई।

बिल्डिंग की खिड़की को तोड़कर आग बुझाने की कोशिश की गई। करीब तीन घंटे के प्रयास के बाद आग पर काबू पा लिया गया। किसी के हताहत होने की सूचना अभी तक नहीं है। आग की खबर मिलते ही डीएलडब्ल्यू के महाप्रबंधक भी घटनास्थल पर पहुंच गये।
DLW के मुख्य संरक्षा अधिकारी नितिन मेहरोत्रा ने इस संदर्भ में बताया कि फाइल ऑफिस से आग लगी, जो धीरे-धीरे पूरे टेक्‍नॉलॉजी  सेंटर तक पहुंच गई। कर्मचारियों का कहना है कि लाखों रुपये के कंप्यूटर के नुकसान हुई है।
नितिन मेहरोत्रा ने बताया कि आग से हुए नुकसान का वास्तविक आकलन आग पूरी तरह से बुझने पर जांच के बाद लगाया जा सकेगा। आग जिस वक्त लगी उस समय कार्यालय में कोई काम नहीं चल रहा था। आग काम के समय लगती तो बड़ा हादसा हो सकता था।