विचित्र आवाज ने रोकी लोकल

सोमवार के दिन एक विचित्र आवाज ने मध्य रेलवे को एक घंटे तक रोक रखा था। दरअसल कलवा-मुंब्रा के बीच मौजूद पारसिक गुफा के पास पहुंचते ही लोकल के मोटरमैन को एक विचित्र प्रकार की ध्वनि सुनाई दी थी सुरक्षा को ध्यान में रखकर मोटरमैन ने इसकी जानकारी मध्य रेलवे कंट्रोल रूम को दी। मध्य रेलवे अधिकारियों का कहना है कि जांच में किसी भी प्रकार की जानकारी हाथ नहीं लगी। जांच में पारसिक गुफा और पटरियां सुरक्षित पाई गर्इं, जिसके बाद पुन: फास्ट ट्रैक की लोकल सेवा शुरू कर दी गई।
बता दें कि सोमवार के दिन सीएसएमटी से कल्याण की दिशा में जा रही तेज लोकल दोपहर १२ बजकर ५३ मिनट पर पारसिक गुफा के नजदीक ही पहुंची थी कि लोकल के मोटरमैन को गुफा के अंदर से एक विचित्र प्रकार की तेज ध्वनि सुनाई दी। विचित्र ध्वनि पत्थरों के ढहने की ध्वनि से मिलती-जुलती थी। सुरक्षा को ध्यान में रखकर मोटरमैन ने लोकल को रोका और उक्त जानकारी मध्य रेलवे के कंट्रोल रूम को दी। जिसके बाद पीडब्ल्युआई (मेंटेनेंस मध्य रेलवे) अधिकारियों की एक टीम मौके पर पहुंची और उन्होंने पटरियों और पारसिक गुफा की जांच की। जांच में किसी भी प्रकार की दुर्घटना होने की संभावना व्यक्त नहीं की गई। लगभग एक घंटे थमी फास्ट ट्रैक की लोकल पुन: १ बजकर ५७ मिनट पर शुरू कर दी गई। मध्य रेलवे वरिष्ठ जनसंपर्क अधिकारी ए.के. जैन ने बताया कि मोटरमैन को कुछ सुनाई दिया और उन्होंने सुरक्षा को ध्यान में रखकर इसकी जानकारी दी थी। जांच की जा चुकी है। जांच में सब सुरक्षित पाया गया है।