विदेशी पर्यटक महिलाओं से कराता था जिस्मफरोशी, मोटी राशि का लालच देकर फांसता था दलाल

पर्यटन-शिक्षा व रोजगार जैसे कारणों से हिंदुस्थान आनेवाली विदेशी महिलाओं से कुछ शातिर दलाल अपनी लच्छेदार बातों से पहले दोस्ती करते हैं तथा बाद में मोटी कमाई का लालच देकर उन्हें जिस्मफरोशी के लिए मना लेते हैं। इसी तरह गोवा आदि जगहों पर दलाल विदेशी महिलाओं से दोस्ती करके उन्हें नशीला पदार्थ खिलाकर बेहोश करते हैं बाद में उनकी आपत्तिजनक तस्वीर-वीडियो फिल्म बनाकर उससे जिस्मफरोशी कराते हैं। विदेशी महिलाओं को फांसकर जिस्मफरोशी करानेवाले ऐसे ही एक दलाल को मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच की यूनिट-७ ने गिरफ्तार किया है।
बता दें कि विदेशी महिलाओं से जिस्मफरोशी करानेवाले दलालों की तलाश मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच की यूनिट-७ कर रही थी। इसी क्रम में यूनिट को एक दलाल का पुराना मोबाइल नंबर मिल गया। डीसीपी अकबर पठान तथा वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सतीश तावरे के मार्गदर्शन व पीआई मनीष श्रीधनकर के नेतृत्व में एपीआई दोरकर व पीएसआई सुनयना सोनावणे की टीम ने फर्जी ग्राहक के जरिए नदीम नसीर खान नामक दलाल से संपर्क किया। शातिर दलाल ने पहले फर्जी ग्राहक से मुलाकात की, उसने जिस्मफरोशी में शामिल महिला के बारे में जानकारी दी और पेशगी के रूप में कुछ रकम भी ली। इस पूरे व्यवहार के समय पुलिस की नजर नदीम पर बनी थी। बाद में नदीम ने मालाड-पश्चिम के लोटस अपार्टमेंट स्थित रेसिडेंसियल होटल में फर्जी पुलिस के फर्जी ग्राहक को बुलाया। होटल के कमरे में दलाल द्वारा जिस्मफरोशी के लिए भेजी गई २ उज्बेकिस्तानी महिलाओं को पुलिस ने मुक्त कराया तथा नदीम को गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है कि हिंदुस्थान आनेवाली उज्बेकिस्तान एवं अन्य गरीब देश की महिलाओं को नदीम मोटी कमाई का झांसा देकर जिस्मफरोशी के लिए फांसता था। मुक्त कराई गई उज्बेक महिलाओं को नदीम दिल्ली से फंसाकर मुंबई लाया था।