" /> विश्वनाथन का चूर हुआ आनंद

विश्वनाथन का चूर हुआ आनंद

ये वाकई बड़ी कैद है। कैद क्या होती है, बिना किसी अपराध के भुक्तभोगी बनने का ये समय है। लोग अपने ही घरों में वैâद हो गए हैं। विश्वभर में खौफ का आलम है। अब देखिए न पांच बार के चैंपियन और स्टार चेस प्लेयर विश्वनाथन आनंद भी कोरोना वायरस से बचने की जद्दोजहद में जुटे हैं। एक शतरंज टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के लिए जर्मनी गए विश्वनाथन आनंद वहीं फंस गए हैं। उन्हें सोमवार १६ मार्च को हिंदुस्थान लौटना था, लेकिन अब उनकी वापसी इस महीने के अंत तक के लिए टल गई है। तब तक के लिए आनंद ने खुद को सेल्फ आइसोलेशन में रखा है। ५० वर्षीय विश्वनाथन आनंद फरवरी में जर्मनी पहुंच गए थे। फिलहाल वह परिवार के साथ वीडियो कॉलिंग करके और इंटरनेट पर दोस्तों के साथ बातें करके समय बिता रहे हैं। अपने इस अनुभव को वे जीवन का सबसे अलग अनुभव बताते हैं। उनकी पत्नी भी चिंतित हैं और याद करती हैं। आनंद वीडियो कॉलिंग के मार्फत अपने घर से जुड़े हैं और यही उनकी इस अनोखी वैâद में चेहरे पर हंसी लाती है बाकी दिनभर एक ऊब है। खौफ है और इंतजार है।