" /> विश्वविद्यालय, कॉलेज और सीईटी परीक्षा कार्यक्रम की दो दिन में होगी घोषणा -उच्च तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत

विश्वविद्यालय, कॉलेज और सीईटी परीक्षा कार्यक्रम की दो दिन में होगी घोषणा -उच्च तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत

– किसी भी छात्र के शैक्षणिक वर्ष का नहीं होगा नुकसान
विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुसार राज्य में विश्वविद्यालय, कॉलेज और सीईटी परीक्षाओं की समयसारिणी दो दिनों में घोषित की जाएगी। यह जानकारी उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने दी। उन्होंने ये भी कहा कि किसी भी छात्र के शैक्षणिक वर्ष का नुकसान नहीं होगा। उन्होंने बताया कि परीक्षा के लिए नियुक्त समिति की रिपोर्ट पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से राज्य के सभी कुलपतियों के साथ विस्तार से चर्चा की गई। सामंत ने कहा कि समिति की रिपोर्ट जल्द ही राज्य सरकार को सौंपी जाएगी, जिसके बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के साथ परामर्श कर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।
बैठक में 1 जुलाई से 15 जुलाई तक डिग्री और स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। 20 से 30 जुलाई, 2020 तक राज्य सामान्य प्रवेश परीक्षा सीईटी और 15 अगस्त तक इन परीक्षाओं के परिणाम घोषित किए जाएंगे और 1 सितंबर, 2020 से नया शैक्षणिक वर्ष शुरू होगा? साथ ही लॉकडाउन की अवधि को छात्रों की कालेज व विश्वविद्यालय में उपस्थित माना जाएगा। अगली कक्षा में प्रवेश पाने के लिए कैरी फॉरवर्ड योजना के तहत प्रवेश दिया जाएगा और अंतिम वर्ष की परीक्षा देना ही होगा। एमफिल और पीएचडी में प्रवेश मौखिक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लिया जाएगा। इन छात्रों के शोध प्रबंध प्रस्तुत करने की समय सीमा बीत गई है? इन्हें समय सीमा को बढ़ाकर देना है क्या? इस पर विस्तार से चर्चा की गई, लेकिन राज्य में कोरोना की व्यापकता को देखते हुए इसपर अंतिम निर्णय लिया जाएगा, ऐसा सामंत ने कहा।

प्रत्येक जिले में छात्रों के लिए होगा समुपदेशन केंद्रों की स्थापना
राज्य में कोरोना की व्यापकता को ध्यान में रखते हुए, प्रत्येक जिले में छात्रों के लिए एक समुपदेशन केंद्र और बड़े जिलों में दो समुपदेशन केंद्र स्थापित किए जाएंगे।समुपदेशन केंद्र की मदद से संबंधित जिले में माता-पिता और छात्रों की सभी समस्याओं को हल किया जाएगा। इस तरह के निर्देश दिए गए है, ऐसा सामंत ने बताया।

सीईटी परीक्षा के लिए समिति गठित
बारहवीं कक्षा के बाद इंजीनियरिंग और अन्य पाठ्यक्रमों के लिए महाराष्ट्र राज्य सामान्य प्रवेश परीक्षा (सीईटी) आयोजित करने के लिए महाराष्ट्र राज्य सामान्य प्रवेश परीक्षा आयुक्त की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया गया है। 12वीं कक्षा के बाद और स्नातकोत्तर के लिए आयोजित की जानेवाली सीईटी परीक्षा की योजना के बारे में विस्तृत चर्चा हुई। इस समिति को सभी उपाय योजना करके समय सारिणी तैयार करने का निर्देश समिति को दिया गया है, ऐसा सामंत ने बताया।