" /> विहिप के देशव्यापी श्री राम महोत्सव पर भी कोरोना वायरस का असर , कई कार्यक्रम स्थगित

विहिप के देशव्यापी श्री राम महोत्सव पर भी कोरोना वायरस का असर , कई कार्यक्रम स्थगित

अयोध्या 25 मार्च चैत्र नवरात्र के प्रथम दिन शुरू होनेवाली विहिप के देशव्यापी श्री राम महोत्सव पर भी कोरोना वायरस के भय का असर पड़ा है।  कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विश्व हिन्दू परिषद् ने राम महोत्सव कार्यक्रम में बदलाव किया है। विहिप ने राम महोत्सव के कई कार्यक्रम को स्थगित कर दिया है और कई कार्यक्रमों में परिवर्तन किया है। विहिप 25 मार्च से पूरे देश के तीन लाख स्थानों में व्यापक स्तर पर श्री राम महोत्सव का कार्यक्रम आयोजित कर रहा है।  यह कार्यक्रम चैत्र नवरात्रि 25 मार्च  से 8 अप्रैल  महावीर हनुमान जयंती तक चलेगा। विहिप  देश के तीन लाख स्थानों पर भगवान् श्री राम की मूर्ति स्थापित कर पूजन पाठ का कार्यक्रम आयोजित करेगा। जिसमें हजाराें की संख्या में श्रद्धालु शामिल होंगे। यही नहीं सभी तीन लाख स्थलों पर विजय जुलूस व रथ यात्रा , शोभा यात्रा का आयोजन भी किया जाएगा।  विहिप ने इसकी तैयारी भी पूरी कर ली है।  लेकिन देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को दखते हुए पूरे कार्यक्रम में बदलाव किया गया है।  विहिप ने अब विजय जुलुस , शोभा यात्रा व रथ यात्रा के आयोजन को स्थगित कर दिया है।  पूजा पाठ , धार्मिक आयोजन के कार्यक्रम में भीड़ नहीं जुटे का आवाहन भी किया है। अयोध्या के कारसेवकपुरम में विहिप के मिडिया प्रभारी शरद शर्मा का कहना है की विश्व हिन्दू परिषद् देश की जनता से अपील करता है की जो लोग बीमार है वह किसी भी धार्मिक कार्यक्रम में सम्मिलित नहीं हों।  ऐसे लोग अयोध्या में आयोजित रामनवमी मेले में भी शामिल नहीं हों।  विहिप कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए राम महोत्सव कार्यक्रम के तहत शोभा यात्रा , धार्मिक जुलुस , रथ यात्रा जैसे आयोजन को स्थगित कर दिया है।  अब तईं लाख स्थलों पर मात्र राम की मूर्ति या फोटो को रख कर पूजा अर्चना , धार्मिक पाठ , राम चरित्र मानस का पाठ जैसे कार्यक्रम को आयोजित किया जायेगा।