शव लेकर जानेवाले खुद बन गए लाश, ट्रक-जीप में भीषण भिड़ंत

झारखंड के देवघर जिले में कल ट्रक और जीप की टक्कर हो गई। हादसे में जीप सवार पांच लोगों की मौत हो गई। सभी अंतिम संस्कार के लिए शव लेकर सुल्तानगंज जा रहे थे। हादसे के बाद भाग रहे ट्रक को लोगों ने पीछा कर पकड़ लिया। हालांकि ड्राइवर भागने में सफल रहा। घटना सारवां थाना क्षेत्र के डकाई की है।
जीप में सवार सभी लोग पालाजोरी के रांगाटाड़ से सुल्तानगंज जा रहे थे। शव गाड़ी के ऊपर बांधा हुआ था। जैसे ही गाड़ी डकाई जंगल स्थित सारठ-देवघर मेन रोड पर पहुंची सामने से आ रहे ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दी। पुलिस ने बताया कि हादसे में जीप सवार पांच लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। स्थानीय लोगों के अनुसार तीन शव गाड़ी में फंस गए, वहीं हादसे में तीन लोग जख्मी हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। गुस्साए लोगों ने ट्रक में लोड सूजी को लूट लिया। मृतकों में सवारी गाड़ी का ड्राइवर राम सिंह, सरोज मंडल, अनिल मंडल, सीताराम मंडल व अशोक मंडल शामिल है। स्थानीय विधायक बादल पत्रलेख और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष शशांक शेखर भोक्ता भी घटनास्थल पर पहुंचे। इन लोगों ने मृतकों के परिवार के लिए २०-२० लाख रुपए मुआवजे की मांग की। घटनास्थल पर पहुंचे सारवां बीडीओ ने सरकारी प्रावधानों के तहत मुआवजा देने की बात कही। उधर कृषि मंत्री रणधीर सिंह ने मुख्यमंत्री विवेकाधीन निधि से मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख रुपए और गंभीर रूप से घायलों को २५-२५ हजार रुपए देने का एलान किया।