" /> शस्त्र से नहीं, सेवा से ही जीतेंगे कोरोना युद्ध- मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

शस्त्र से नहीं, सेवा से ही जीतेंगे कोरोना युद्ध- मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र की रक्षा के लिए तैयार हुए कोविड योद्धा 
मुख्यमंत्री ने माना आभार
महाराष्ट्र की रक्षा के लिए तैयार हुए कोविड योद्धाओं का मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आभार माना। प्रत्येक कोविड योद्धा को पत्र लिखकर इस युद्ध को शस्त्र से नहीं, सेवा से हमें जीतना है, ऐसा आह्वान किया है। मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में आगे कहा है कि आप सभी लोगों को व्यक्तिगत रूप से पत्र लिखते समय महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में छाती अभिमान से फूल गई है। यह अपने महाराष्ट्र की और मराठी माटी की महान परंपरा है।
संकट के समय हम पीछे हटते नहीं हैं। आज हम सभी कोरोना के भयानक संकट से लड़ रहे हैं। यह युद्ध सरल नहीं है। इस युद्ध संकट में “सैनिक” बनकर आप एक कोविड योद्धा के रूप में मैदान में उतरे हैं। यह निश्चित रूप से सराहनीय है कि आप मेरे आह्वान के जवाब में महाराष्ट्र की रक्षा करने के लिए तैयार हैं।
इस युद्ध को सीमा पर सैनिकों की तरह लड़ना होगा। महाराष्ट्र का प्रत्येक नागरिक आज एक सैनिक के रूप में इस संकट से लड़ रहा है। अब जब आप जैसे कोविड योद्धा युद्ध में उतर गए हैं, तो मुझे मुख्यमंत्री के रूप में बड़ी ताकत मिली है। यह एक प्रकार की देश और ईश्वर की पूजा है। यह हमारी संस्कृति है। हम हथियारों की बजाय सेवा के साथ इस मुहिम को जीतना चाहते हैं। संक्षेप में सेवा ही हमारा हथियार होगी। यह महाराष्ट्र है, महाराष्ट्र के लोगों से हमारे खून के रिश्ते हैं। महाराष्ट्र के आह्वान पर प्रतिक्रिया देते हुए आप कौशल की परंपरा का संरक्षण कर रहे हैं। आपकी कृतज्ञता कैसे व्यक्त करें? यह सेवा महाराष्ट्र और शिवराय के चरणों में पेश किए बिना नहीं रहेंगे।
*महाराष्ट्र में 21 हजार, 752 लोगों ने कोविड योद्धा के रूप में किए आवेदन
परिचारिका, फार्मासिस्ट, डॉक्टर, सामान्य स्वयंसेवक, सामाजिक कार्यकर्ता, प्रयोगशाला विशेषज्ञ, वॉर्ड बॉय, पैरामेडिक अन्य स्वास्थ्य व्यावसायिक जानकारी के तकनीकी ज्ञान क्षेत्र, शिक्षक, संरक्षण सेवा, सुरक्षा रक्षक, सैन्य स्वास्थ्य संस्था के लोग इस प्रकार विभिन्न क्षेत्र के मुंबई सहित महाराष्ट्र से 21 हजार, 752 लोगों ने कोविड योद्धा होने के लिए आवेदन किए हैं, जिसमें स्वास्थ्य क्षेत्र में योद्धा की संख्या 12 हजार, 103 है। अन्य क्षेत्र के 9 हजार, 649 हैं इनमें से 3 हजार, 716 कोविड योद्धा रेड जोन में काम करने को तैयार हैं।
मुंबई के लिए 3,766 आवेदन
महाराष्ट्र में कोविड योद्धा के लिए प्राप्त आवेदनों में 3,766 आवेदन मुंबई के लिए हैं। इनमें स्वास्थ्य क्षेत्र की आवेदन की संख्या 1,785 है व अन्य क्षेत्र के लिए आवेदन की संख्या 1,981 है। मुंबई में उपचार के जंबो सुविधा निर्माण की गई है। यहां काम करने की तैयारी दिखानेवाले सभी योद्धाओं को मुंबई मनपा की ओर से नियुक्ति पत्र देने की कार्रवाई शुरू है। कोविड योद्धा के रूप में काम करने की तैयारी दिखानेवाले सभी कोविड योद्धाओं को सलाम करते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने उन्हें व्यक्तिगत तौर पर पत्र लिखकर आभार प्रकट किया है।