शिक्षा में सुधार करके समयानुसार बदलाव जरूरी- आदित्य ठाकरे

पश्चिमी देशों के मुकाबले शिक्षा के दर्जे में हम ५० वर्ष पीछे हैं। आधुनिक तकनीकि ज्ञान पर निर्भर होकर और शिक्षा में बदलाव करके शिक्षा का दर्जा सुधारे बिना देश की प्रगति असंभव है, ऐसा विचार शिवसेना नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने व्यक्त किया।
सांसद हेमंत पाटील के संपर्क कार्यालय का उद्घाटन करने के बाद उत्सव हॉल में आयोजित किए गए व्यापारी, डॉक्टर्स, वकील और कलाकारों के संवाद कार्यक्रम में आदित्य ठाकरे ने अपने उद्गार व्यक्त किए। इस दौरान उन्होंने व्यापारी, वकील, इंजीनियर, डॉक्टर्स से बातचीत करते हुए उनकी विभिन्न समस्याओं का निराकरण किया।
शिवसेना ने मुंबई में युवकों को प्रशिक्षण देकर उन्हें कुशल बनाया है। राज्य सरकार को भी भूमिपुत्रों को प्राथमिकता देना चाहिए। ऐसा सटीक जवाब शिवसेना नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने एक सवाल के जवाब में दिया।
सांसद हेमंत पाटील के संपर्क कार्यालय का उद्घाटन करने के बाद उत्सव हॉल में आयोजित किए गए व्यापारी, डॉक्टर्स, वकील, शिक्षक और कलाकारों के संवाद कार्यक्रम में आदित्य ठाकरे ने बातचीत करते हुए उनकी समस्याओं का निराकरण किया। इस दौरान गोदावरी इंटरनेशनल स्कूल की सहायक शिक्षिका पैठणकर द्वारा भूमिपुत्रों को नौकरियों में आरक्षण दिया जाना चाहिए, ऐसा सवाल आदित्य ठाकरे से किया गया था। इस सवाल के जवाब में उन्होंने उक्त उद्गार व्यक्त किए। उद्योगपति हर्षद शहा ने ऑनलाइन व्यापार पर आपत्ति जताते हुए आदित्य ठाकरे से इस संदर्भ में सवाल पूछा, जिसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि ऑनलाइन व्यापार के चलते हमारी आर्थिक प्रगति हुई है और रोजगार भी बढ़ा है, जिसे भुलाया नहीं जा सकता। ऑनलाइन व्यापार को इसलिए प्रतिसाद मिल रहा है क्योंकि ग्राहक इस बात से निश्चिंत रहता है कि आधी रात को दिया गया ऑर्डर उसे घर पर जरूर मिलेगा। चिकित्सकीय महाविद्यालयों की संख्या पश्चिम महाराष्ट्र की तुलना में मराठवाड़ा में काफी कम है। इसके पीछे सरकार की कोई वजह होगी। ऐसा कहते हुए मराठवाड़ा में चिकित्सकीय महाविद्यालय की स्थापना के लिए आप प्रयास करोगे क्या? इस सवाल के सवाब में आदित्य ठाकरे ने कहा कि मैं आपकी अपेक्षाओं को राज्य सरकार को पहुंचाऊंगा।